‘बस मां की कोख और कब्र ही सुरक्षित रह गई है,’ मासूम के सुसाइट नोट से दहल जाएगा आपका दिल…

“न तो शिक्षकों पर भरोसा करो न ही रिश्तेदारों पर लड़कियों के लिए बस अब मां की कोख और कब्र ही सुरक्षित रह गई।” ये दिल को दहला देने वाले शब्द एक 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली मासूम बच्ची के है। जिसने खुदकुशी के कुछ वक्त पहले सुसाइट नोट में लिखे हैं।

बता दें, मामला चेन्नई के बाहरी इलाके का है। 11वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा शनिवार को कथित रूप से फांसी के फंदे पर लटकी हुई पाई गई। माता-पिता ने बच्ची को छत से लटका हुआ पाया तो वे हैरान रह गए उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस तुरंत वहां पहुंची और बच्ची के रूम की तलाशी ली, इस दौरान पुलिस के हाथ सुसाइड नोट आया। इस सुसाइड नोट में लिखा है, ‘सिर्फ मां की कोख और कब्र ही सुरक्षित रह गई है।’

खबरों के अनुसार, पुलिस ने लड़की के दोस्तों से पूछताछ की। जिसमें पता चला की हाल के दिनों में इस बच्ची ने खुद को दोस्तों से अलग कर लिया था। बच्ची गुमसुम रहने लगी थी। लेकिन कथित तौर पर बच्ची द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट दिल दहला देने वाला है। इस पत्र में बच्ची ने अपनी उस पीड़ा को बताया है, जिससे होकर उसे पिछले कुछ दिनों में गुजरना पड़ा था। बच्ची ने सुसाइड नोट में लिखा है, ‘Stop Sexual Harrasment’अब और बर्दाश्त वो नहीं कर सकती है। अब पढ़-लिख पाने की क्षमता नहीं रह गई है, बार-बार बुरे सपने आ रहे हैं, जो उसे सोने नहीं देते थे।

आगे नोट में छात्रा ने लिखा है, हर माता-पिता को अपने बेटों को लड़कियों का सम्मान करना सिखाना चाहिए। रिश्तेदारों या शिक्षकों पर भरोसा न करें। एकमात्र सुरक्षित स्थान मां की कोख और कब्रिस्तान है।” पत्र में यह भी कहा गया है कि स्कूल भी लड़कियों के लिए सुरक्षित नहीं रह गया है।

वहीं इस केस की जांच के लिए मांगडू पुलिस ने 4 स्पेशल टीम बनाई है। ये टीम बच्ची की फोन डिटेल, समेत कई चीजों की जांच कर रही है। इस नंबर पर जिनके कॉल बार बार आए हैं पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV