सीआरपीएफ का कोई जवान ड्यूटी के दौरान शहीद हुआ तो मिलेंगे 35 लाख, गृह मंत्रालय ने दी मंजूरी

सीआरपीएफ का कोई जवान ड्यूटी के दौरान शहीद हो जाता है तो उसके परिवार वालों को अब 21.5 लाख रुपये की जगह 35 लाख रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी। सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस फैसले की जानकारी दी है। इसके साथ ही जवानों से जुड़े अन्य मामलों में भी विभाग ने कई अहम फैसले लिए हैं।

सीआरपीएफ का कोई जवान ड्यूटी के दौरान शहीद हो जाता है तो उसके परिवार वालों को अब 21.5 लाख रुपये की जगह 35 लाख रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी। सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस फैसले की जानकारी दी है। इसके साथ ही जवानों से जुड़े अन्य मामलों में भी विभाग ने कई अहम फैसले लिए हैं।

इसके साथ ही अन्य मामलों में भी सरकार ने  जोखिम कोष को संशोधित कर 25 लाख रुपये कर दिया है। वहीं शहीद जवानों की बेटी या बहन की शादी के लिए दी जाने वाली आर्थिक सहायता को भी बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया गया है।

केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के सभी जवानों के परिवारों को नवंबर से आर्थिक सहायता की राशि बढ़ाने की तैयारी पहले से ही चल रही थी। जिसे अब गृह मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है. इससे पहले, सीआरपीएफ में, जोखिम कोष 21.5 लाख रुपये से 25 लाख रुपये तक था, जिसे महानिदेशालय द्वारा निर्धारित किया गया था।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV