इस्तीफे के बाद स्वामी प्रसाद मौर्या पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार! MP/MLA कोर्ट ने जारी किया यह आदेश?

योगी सरकार में पूर्व श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या पर यह आरोप है कि उन्होंने साल 2014 में देवी देवताओं पर किये गए आपत्तिजनक टिपण्णी की और एक समुदाय विशेष की धार्मिक भावनाओं पर चोट किया। इसी लिहाज से मुख्य दंडाधिकारी MP/MLA ने उन्हें यह वारंट जारी किया है।

मंगलवार को स्वामी प्रसाद मौर्या के इस्तीफे के बाद अब उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। MP/MLA कोर्ट ने स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है। दरअसल, 7 साल पुराने मामले को लेकर स्वामी प्रसाद मौर्या को MP/MLA कोर्ट ने नोटिस तलब की है। जिसमें साल 2014 में उनके द्वारा देवी देवताओं पर किये गए आपत्तिजनक टिप्पणियों के चलते उन्हें 24 जनवरी तक सुल्तानपुर कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया गया है।

योगी सरकार में पूर्व श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या पर यह आरोप है कि उन्होंने साल 2014 में देवी देवताओं पर किये गए आपत्तिजनक टिपण्णी की और एक समुदाय विशेष की धार्मिक भावनाओं पर चोट किया। इसी लिहाज से मुख्य दंडाधिकारी MP/MLA ने उन्हें यह वारंट जारी किया है। स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ इससे पहले भी गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था लेकिन साल 2016 में उन्होंने इस वारंट पर ‘स्टे आर्डर’ ले रखा था।

जानकारी के मुताबिक मौर्या के खिलाफ बीते 6 जनवरी को ही मामले में सुनवाई के दौरान 12 जनवरी को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया गया था लेकिन बुधवार 12 जनवरी को जब वो न्यायलय में हाजिर नहीं हुए तो इसी गिरफ्तारी वारंट को दोबारा जारी कर हाजिरी की अगली तारीख 24 जनवरी कर दी गई है लिहाजा अब स्वामी प्रसाद मौर्या को 24 जनवरी को सुल्तानपुर कोर्ट में हाजिर होना है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV