सेना ने गलवान घाटी के वायरल वीडियो की बताई सच्चाई! जानिये क्या है पूरा मामला?

चीन सरकार ने अपने सैनिको एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था। जिसमे चीन के सैनिक चीन के झंडे को गलवान घाटी पर फहरा रहे थे। हालांकि, भारतीय सेना से जुड़े सुत्रों ने अब बताया है कि चीन ने जिस इलाके में झंडा फहराया वह दोनों देशों के बीच मौजूद असैन्य क्षेत्र का उल्लंघन नहीं करता है।

चीन सरकार ने अपने सैनिको एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था। जिसमे चीन के सैनिक चीन के झंडे को गलवान घाटी पर फहरा रहे थे। हालांकि, भारतीय सेना से जुड़े सुत्रों ने अब बताया है कि चीन ने जिस इलाके में झंडा फहराया वह दोनों देशों के बीच मौजूद असैन्य क्षेत्र का उल्लंघन नहीं करता है।

यानि की यह झंडा चीन ने अपने ही आधिकार क्षेत्र मे फहराया है। और यह झंडा वहा नहीं फहराया गया है जहां 2020 में भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प हुई थी। आपको बता दे कि नये साल के मौके पर चीन के सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने चीनी सैनिकों का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा था, चीनी सैनिक भारतीय सीमा के पास गलवान घाटी में चीन के नागरिकों को नए साल की शुभकामनाएं दे रहे हैं।

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गलवान घाटी से चीनी सैनिकों का वीडियो सामने आने के बाद इस पर प्रतिक्रिया देते हुए रविवार को कहा था कि घाटी क्षेत्र में केवल भारत का झंडा ही अच्छा दिखता है। अपने ट्विटर हैंडल पर राहुल गांधी ने पीएम मोदी से इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी तोड़ने का आग्रह किया, और कहा कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व वाला देश मुंहतोड़ जवाब का हकदार है।

Related Articles

Back to top button
Live TV