पुलिस की बड़ी कार्रवाई 10 लाख की रंगदारी मांगने वाला हिस्ट्रीशीटर हुआ गिरफ्तार…

स्वाट टीम व सर्विलांस टीम की संयुक्त कार्रवाई में तीन शातिर बदमाशों को अरेस्ट किया गया है। ये शातिर बदमाश पाण्डेय बाजार के गल्ला व्यापारी प्रदुमन गुप्ता से फोन पर 10 लाख की रंगदारी मांग रहे थे। रंगदारी न देने पर व्यापारी के बेटे को जान से मारने की धमकी दे रहे थे। इस गैंग का मास्टर माइण्ड श्रवण पटवा है जो वाल्टरगंज थाने का हिस्ट्रीशीटर है। इस के ऊपर एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं, इस के अलावा नीरज पटवा व भोला निषाद को भी पुलिस ने अरेस्ट किया है। इन के ऊपर भी पहले से कई मुकदमे दर्ज हैं।

आप को बता दें 26 नवम्बर को गल्ला व्यापारी के मोबाइल पर 10 लाख की रंगदारी मांगने वाले बदमाशों ने फोन किया। इस के बाद फिर 28 नवम्बर को दोबारा धमकी भरा फोन आया। धमकी देने वाले ने अपना नाम हनुमंत पाण्डेय बताया, रंगदारी न देने पर व्यापारी के बेटे को जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित व्यापारी ने इस की शिकायत पुरानी बस्ती थाने पर की, रंगदारी मांगने वाले अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज का जांच शुरू की। पुलिस की जांच में श्रवण पटवा जो इस गैंग का मुखिया है पकड़ा गया, इस के दो अन्य साथियों को भी पुलिस ने अरेस्ट कर लिया।

पूछताछ में हिस्ट्रीशीटर श्रवण पटवा ने बताया की इस का नमकीन बनाने का कारखाना है। जिसके लिए तेल,बेसन आदि गल्ला व्यापारी प्रदुमन दुप्ता की दुकान से जाता था, बकाया ज्यादा होने पर व्यापारी ने सामान देना बंद कर दिया। जिसके बाद उस से रंगदारी मांगने का प्लान बनाया गया। सिद्धार्थनगर जेल में बंद हत्या के आरोप में बंद बदमाश हनुमंत पाण्डेय के नाम से धमकी दी गई। धमकी में प्रयोग फोन भी इन लोगों ने लूटा था,। एसपी आशीष श्रीवास्तव ने बताया की श्रवण पटवा जो इस गैंग का मास्टरमाइंड है वो वाल्टरगंज थाने का हिस्ट्रीशीटर है। इन के विरूद्ध आईपीसी की धारा 384 व अवैध शस्त्र अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा गया है। एसपी ने इस मामले का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 25 हजार ईनाम देने की घोषणा किया।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV