बिहार : जहरीली शराब ने छीन ली 24 जिंदगियां, शराब-बंदी के दावों की खुली पोल

ग्रामीणों ने दावा किया कि सभी पीड़ितों ने बुधवार शाम तेलहुआ गांव के चमारटोली इलाके में शराब का सेवन किया था। "शराब पीने के बाद, उनमें से आठ की हालत बिगड़ गई और उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया जहां आज उनकी मौत हो गई।"

बिहार के गोपालगंज और पश्चिमी चंपारण जिलों में पिछले दो दिनों में संदिग्ध नकली शराब के सेवन से कुल 24 लोगों की मौत हो गई है। राज्य में कई और अन्य लोग बीमार हो गए हैं। बिहार के पश्चिम चंपारण के जिला मुख्यालय बेतिया के तेलहुआ गांव में गुरुवार को कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से आठ लोगों की मौत हो गई, जबकि अधिकारियों की माने तो गोपालगंज में भी संदिग्ध नकली शराब के सेवन की एक दूसरी घटना में गुरुवार को 16 लोगों की मौत हो गई, जबकि जिले में छह और मौतों की पुष्टि हुई है।

दोनों जिलों के प्रशासन ने अब तक मौतों के कारणों की पुष्टि नहीं की है। तेलहुआ में जहरीली शराब के सेवन से होने वाली मौत की यह घटना पिछले दस दिनों में उत्तरी बिहार में घटित हुई इस तरह की तीसरी घटना है। बिहार के मंत्री जनक राम शुक्रवार को गोपालगंज पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा कि, “मैंने उन लोगों के घर का दौरा किया है जिनकी कथित तौर पर नकली शराब पीने से मौत हुई थी। यह एनडीए सरकार को बदनाम करने की साजिश है।”

गोपालगंज के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आनंद कुमार ने कहा, “पिछले दो दिनों में जिले के मुहम्मदपुर गांव में कुछ लोगों की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई है। उनकी मौत के कारण की पुष्टि नहीं की जा सकती क्योंकि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है। पुलिस की तीन टीमें मामले की जांच कर रही हैं।”
स्थानीय पुलिस ने कहा कि कुछ मृतकों के शवों का उनके परिवारों ने अंतिम संस्कार कर दिया है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को चार लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई जबकि दो अन्य की अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई।

पुलिस ने बताया कि प्रथम दृष्टया ये मौतें किसी जहरीले पदार्थ के सेवन से हुई लगती हैं और पुलिस ने मामला भी दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि मंगलवार से बुधवार के बीच हुई इस घटना के सिलसिले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने सभी आरोपी स्थानीय व्यापारियों की पहचान कर ली है। इनके द्वारा ही नकली शराब बेची जा रही थी जिसके कथित तौर पर सेवन करने से 20 से अधिक अनुसूचित जाति के लोगों की मौत हो गयी।

पश्चिम चंपारण में मृतकों की पहचान तेलहुआ गांव के वार्ड सं 2, 3 और 4 के निवासी के रूप में हुई है। इस घटना में भी जिला प्रशासन ने अभी तक उनकी मौत के कारणों की पुष्टि नहीं की है। पश्चिम चंपारण के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपेंद्र नाथ वर्मा ने कहा कि मामले की जांच जारी है और जिला प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी तेलहुआ में डेरा डाले हुए हैं।

ये भी देखें – तेजप्रताप यादव ने दी गोवर्धन पूजा की बधाई

तेजप्रताप यादव ने गोवर्धन पूजा की बधाई देते हुए कू पर लिखा, ”दिवाली के अगले दिन गोवर्धन पूजा का त्योहार मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के साथ गाय के गोबर से गोवर्धन पर्वत बनाकर पूजा करने की परंपरा है।”

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen + 19 =

Back to top button
Live TV