अस्पताल की ओपीडी बन्द कराकर, चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने कटा हंगामा, मरीज हुए परेशान..

कानपुर देहात की कोतवाली अकबरपुर क्षेत्र के जिला अस्पताल अकबरपुर में उस समय हड़कम्प मच गया। जब अस्पताल के चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी रजनीश कुमार ने ओपीडी बन्द करा दी और जमकर अस्पताल में हंगामा काटा। जानकारी पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा और मामला शांत कराने की कोशिश की। तो रजनीश कुमार और उसके साथियों ने पुलिस वालों को कमरे में बंधक बना लिया। इसके बाद जमकर मारपीट हुई, मामला बढ़ते देख पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाई।

उपद्रवियों ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से बदसलूकी शुरू कर दी, यही नही उपद्रवियों ने विरोध करते हुए पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की और कोतवाली प्रभारी के अंगूठे को दातो से चबा डाला, उपद्रवियों ने पुलिस के साथ चिकित्सकों समेत अस्पताल के अन्य कर्मचारियों से हाथापाई भी की। गुस्साए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को बल का प्रयोग करना पड़ा और उपद्रवियों को भगाने के लिए लाठियां भी भजनी पड़ी, और उपद्रव करने वाले के आयोजक आरोपी रजनीश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है।

रजनीश कुमार की गिरफ्तारी के बाद उसके साथी और भी उग्र हो गए, मामला बढ़ते देख पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाई, जिसमे मुख्य आरोपी रजनीश का भाई एक मासूम को लेकर विरोध करने लगा जिसको भी पुलिस ने जमकर पीट दिया, जिसकी पिटाई का वीडियो जमकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

पुलिस कोतवाल इतने गुस्से में आ गए कि मासूम का भी लिहाज नही रहा और लाठियां भांजते रहे। वीडियो वायरल होने के बाद जिले के एसपी ने कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा को लाइन हाजिर कर दिया हैं और मासूम को लेकर भागते हुए आरोपी की पिटाई के मामले में अपर पुलिस अधीक्षक को गहनता से जांच करने के निर्देश दिए हैं।

वही पुलिस ने अन्य आरोपियों समेत मुख्य आरोपी रजनीश को गिरफ्तार कर लिया और मुकदमा पंजीकृत कर दिया है। बरहाल पुलिस पूरे प्रकरण की गहनता से जांच में जुटी हैं। मुख्य आरोपी पर पूर्व में तत्कालीन एसडीएम अकबरपुर से अभद्रता एवं मारपीट धमकी जैसे तमाम मुकदमे दर्ज हैं। जो न्यायालय में विचाराधीन हैं ।वही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने बमुश्किल मामला शांत कराया और जिला अस्पताल की ओपीडी को सुचारू रूप से संचालित कर मरीजो को दवा एवं उपचार मुहैया करवाया हैं।

वही जिला अस्पताल की प्रभारी ने बताया कि जिला अस्पताल मे मेडिकल कालेज बनाए जाने का कार्य किया जा रहा है जिसको लेकर केम्पस मे रहने वाले चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी के घर मे धूल जाने के कारण जिला अस्पताल प्रभारी को अवगत कराया था कि जिला अस्पताल मे हो रहे मिट्टी के कराय को बंद कराय जाए। जिस पर प्रभावी कार्यवाही न होने पर आज र्रजनीश ने अपने सैकड़ो साथियो के साथ मिलकर ओपीडी बंद की थी लेकिन पुलिस के द्वारा मामले को शांत करा दिया गया हौ और दवा उपचार सुचारु रूप से किया जा रहा है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV