CM Yogi बोले- सिख गुरुजनों का बलिदान केवल खालसा पंथ के लिए ही नहीं था बल्कि यह बलिदान हिंदुस्तान को बचाने के लिए !

सीएम योगी ने अपने सोशल मीडिया एक्स के माध्यम से बधाई देते हुए लिखा कि ''महान संत, सिख पंथ के संस्थापक और प्रथम गुरु श्री गुरुनानक देव महाराज के पावन प्रकाश पर्व पर उन्हें कोटिशः नमन एवं सभी सिख बंधुओं, श्रद्धालुओं व प्रदेश वासियों को हार्दिक बधाई.

Lucknow news : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गुरु नानक देव के 554वें प्रकाश पर्व पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए. और सीएम योगी ने अपने सोशल मीडिया एक्स के माध्यम से बधाई देते हुए लिखा कि ”महान संत, सिख पंथ के संस्थापक और प्रथम गुरु श्री गुरुनानक देव महाराज के पावन प्रकाश पर्व पर उन्हें कोटिशः नमन एवं सभी सिख बंधुओं, श्रद्धालुओं व प्रदेश वासियों को हार्दिक बधाई.

बता दें कि सीएम योगी सिख पंथ के संस्थापक एवं प्रथम गुरु श्री गुरुनानक देव जी महाराज के 554वें पावन प्रकाश पर्व पर आज लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए. उन्होने कहा कि मानवता के कल्याण को समर्पित उनकी शिक्षाएं समतामूलक समाज की स्थापना की राह दिखाती हैं. गुरुनानक देव की भक्ति और उनकी साधना राष्ट्र की समृद्धि का कारक बनेगी. आप सभी को पावन प्रकाश पर्व की कोटि-कोटि बधाई.

सीएम योगी ने कहा कि सिख गुरुजनों का जो त्याग और बलिदान है, देश और धर्म के लिए हजारों सिखों के बलिदान की कथा, देशभर में एक नई शक्ति, एक नई प्रेरणा प्रदान करती है. देश और धर्म की रक्षा करने के लिए गुरु कृपा से निकला हुआ तेज है. खालसा एक पंथ नहीं है. प्रकाश पुंज है. सिख गुरुजनों का बलिदान केवल खालसा पंथ के लिए ही नहीं था बल्कि यह बलिदान हिंदुस्तान को बचाने के लिए था. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, “सिख धर्म भक्ति के गहन ज्ञान से परिपूर्ण है, गुरु तेग बहादुर, गुरु गोविंद सिंह और उनके 4 ‘साहिबजादों’ के बलिदान के साथ-साथ हजारों सिखों के देश और धर्म के लिए बलिदान की प्रथा देशभर को एक नई प्रेरणा देती है.

Related Articles

Back to top button
Live TV