मैराथन दौड़ भगदड़ पर कांग्रेस नेता सुप्रिया ऐरन का बेतुका बयान, बोली- भगदड़ मचाना इंसानी फितरत!

अपनी राजनितिक मैराथन दौड़ की तुलना वैष्णों देवी मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं के भीड़ से करते हुए यह बयान दिया कि अगर वैष्णों देवी में भगदड़ मच सकती है तो यहां क्यों नहीं? उन्होंने आगे कहा कि ये तो बच्चियां हैं और ऐसा होने के लिए इंसानी फितरत जिम्मेदार है।

यूपी के बरेली में कांग्रेस ने महिला मैराथन का आयोजन किया था। इस मैराथन दौड़ में भारी संख्या में लड़कियों ने प्रतिभाग किया। एक परिस्थिति ऐसी बनी जब भीड़ बेकाबू हो गई और भगदड़ जैसे हालात बन गए। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने स्थिति को संभालने की कोशिश की लेकिन भीड़ नियंत्रण से बाहर हो गई। ऐसे में कई लड़कियां भीड़ में दब गई और जूते चप्पल सडकों पर बिखर गए।

इस स्थिति को लेकर जब कांग्रेस नेता और पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरोन से सवाल किया गया तो उन्होंने बेतुका बयान दिया। उन्होंने अपनी राजनितिक मैराथन दौड़ की तुलना वैष्णों देवी मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं के भीड़ से करते हुए यह बयान दिया कि अगर वैष्णों देवी में भगदड़ मच सकती है तो यहां क्यों नहीं? उन्होंने आगे कहा कि ये तो बच्चियां हैं और ऐसा होने के लिए इंसानी फितरत जिम्मेदार है।

उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि फिर भी मैं इसके लिए तमाम मिडियाकर्मियों से मांफी मांगती हूं लेकिन यह साजिश भी हो सकती है क्योंकि जिस तरह से कांग्रेस का जनाधार बढ़ रहा है, कुछ लोगों को इससे बहुत तकलीफ है। बरेली से सामने आये एक वीडियो में यह साफ तौर पर देखा जा सकता है कि भीड़ पुलिसकर्मियों के नियंत्रण से बाहर हो चुकी है और कई लडकियां भीड़ में दब गई हैं। इस दौरान कुछ लड़कियों को मामूली चोट भी आई है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV