सरकारी कर्मचारियों के रिश्वत मांगने पर विजिलेंस कार्यालय में करें सम्पर्क, 8 महीनों में 6 पर हो चुकी कार्रवाई

भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी के मामले में विजिलेंस कुमाऊँ लगातार कार्रवाई कर रही है। पिछले 5 सालों में रिश्वत के मामले में 18 मामले ट्रैप किये गए सबसे ज्यादा कार्रवाई इस वर्ष में की गयी है।

रिपोर्ट-दिनेश पाण्डेय

हल्द्वानी: भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी के मामले में विजिलेंस कुमाऊँ लगातार कार्रवाई कर रही है। पिछले 5 सालों में रिश्वत के मामले में 18 मामले ट्रैप किये गए सबसे ज्यादा कार्रवाई इस वर्ष में की गयी है, जहां अब तक 6 मामले ट्रैप किये गए है जिसमें कई अधिकारी भी शामिल हैं।

एसपी विजिलेंस प्रहलाद मीणा ने बताया कि कुमाऊं क्षेत्र में विजिलेंस की टीम ने पिछले 5 सालों में बड़ी कार्रवाई करते हुए रिश्वत मांगने की शिकायत पर 18 मामले ट्रैप कर रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों को पकड़ा है। उन्होंने बताया कि इस वित्तीय वर्ष 2022 में अभी 8 महीने के भीतर रिश्वत के 6 मामले पकड़े गए हैं। साथ ही 2018 में 5, 2019 में 3, 2020 और 2021 में 2- 2 मामले ट्रैप किए गए हैं।

पकड़े गए मामलों में 6 राजस्व विभाग, 4 पीडब्ल्यूडी जबकि 3 मामले वन विभाग के सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ विजिलेंस टीम मजबूती के साथ कार्रवाई कर रही है, विजिलेंस द्वारा पकड़े गए मामलों में 52 प्रतिशत मामलों में आरोपियों को सजा भी हो चुकी है। जबकि कुछ मामलों में आरोपी बरी भी हो चुके हैं जबकि कई मामले अभी भी न्यायालय में विचाराधीन है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि अगर कोई भी अधिकारी या कर्मचारी रिश्वत मांगता है तो तत्काल उसकी शिकायत विजिलेंस कार्यालय में करें, जिससे टीम द्वारा तत्काल कार्रवाई की जा सके।

Related Articles

Back to top button
Live TV