पंजाब चुनाव पर EC का बड़ा फैसला, 20 फरवरी के लिए टल गया चुनाव, जानिये क्या है कारण?

पंजाब में मतदान का दिन 14 फरवरी 2022 निर्धारित है जबकि गुरु रविदास जयंती 16 फरवरी को पड़ रही है। उत्सव वाले दिन से लगभग एक सप्ताह पहले बड़ी संख्या में भक्त वाराणसी के लिए जाना शुरू कर देते हैं लिहाजा कोई भी मतदाता मतदान से वंचित ना हो जाए इस कारण आयोग ने यह फैसला लिया है।

चुनाव आयोग ने सोमवार को जारी अपने एक बयान में कहा कि पंजाब में मतदान 20 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। दरअसल, पंजाब में 14 फरवरी को चुनाव होने वाले थे लकिन पंजाब में 16 फरवरी 2022 को गुरु रविदास जयंती मनाया जाता है। इस समारोह को लेकर पंजाब में एक सप्ताह पहले से ही तैयारी करने शुरू होने लगती है लिहाजा चुनाव आयोग ने पंजाब में मतदान 20 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया है।

पंजाब में चुनावों को लेकर आयोग को राज्य सरकार, राजनीतिक दलों और अन्य कई संगठनों से आवेदन प्राप्त हुए थे। इन आवेदनों में, गुरु रविदास जयंती समारोह में भाग लेने के लिए पंजाब से वाराणसी में बड़ी संख्या में भक्तों की आवाजाही के संबंध में ध्यान आकर्षित किया गया था। इस साल 16 फरवरी को मनाये जाने वाले जाने गुरु रविदास जयंती समारोह के कारण बड़ी संख्या में मतदाताओं को मतदान से वंचित होने के खिलाफ राज्य सरकार समेत कई संगठनों ने आयोग के समक्ष अपनी मांग को रखा था।

बता दें कि पंजाब में मतदान का दिन 14 फरवरी 2022 निर्धारित है जबकि गुरु रविदास जयंती 16 फरवरी को पड़ रही है। उत्सव वाले दिन से लगभग एक सप्ताह पहले बड़ी संख्या में भक्त वाराणसी के लिए जाना शुरू कर देते हैं लिहाजा कोई भी मतदाता मतदान से वंचित ना हो जाए इस कारण आयोग ने यह फैसला लिया है। EC ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि “राज्य सरकारों और कई गैर सरकारी संगठनों से प्राप्त अभ्यावेदन से उभर रहे इन नए तथ्यों पर विचार करने के बाद पंजाब में चुनावों को 20 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।”

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV