महिलाओं पर कांग्रेस मेहरबान, घोषणा पत्र में फ्री बस यात्रा की सुविधा देने का किया ‘चुनावी वादा’

अभी कुछ ही दिन पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा था कि कांग्रेस यूपी की महिलाओं का सशक्तिकरण चाहती है और इसके लिए वो हर संभव प्रयास करेंगी। इसी बात को ध्यान में रखकर इन्होने 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' का नारा दिया और साथ ही आगामी यूपी विधानसभा चुनावों में महिलाओं को अपनी पार्टी के 40 फीसद सीटों पर टिकट देने की घोषणा की थी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी प्रदेश की महिलाओं को रिझाने की पुरजोर कोशिश कर रही हैं। प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस की महिला वोटर्स को लुभाने पर जुटी हुई है। चुनावी मौसम में कांग्रेस ने, केवल महिलाओं के लिए अपना विशेष चुनावी घोषणा-पत्र तैयार किया है जिसमें कई चुनावी वायदे दिए गए हैं।

महिला विशेष अपने घोषणा-पत्र में कांग्रेस ने गृहणी महिलाओं को प्रत्येक साल तीन गैस सिलिंडर देने का वायदा किया है। इसके अलावा छात्राओं को स्मार्टफोन और स्कूटी, नए सरकारी पदों पर आरक्षण के प्रावधानों के अनुरूप 40 फीसदी महिलाओं की नियुक्ति, महिलाओं को फ्री बस सेवा की सुविधा देने का चुनावी वायदा किया है। कांग्रेस ने अपने इस घोषणा पत्र में पति की मृत्योपरांत निराश्रित महिलाओं और बुजुर्गों का भी खास खयाल रखा है। यूपी में अब तक विधवा और वृद्ध पेंशन के तहत 1500 रुपये की त्रैमासिक किश्त दी जाती थी। कांग्रेस ने इसे बदलकर इन महिलाओं को 1000 रुपये की मासिक किश्त देने का वायदा किया है।

प्रदेश की आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों और आशा बहुओं का विशेष ध्यान रखते हुए कांग्रेस ने अपने इस घोषणा पत्र के माध्यम से उन्हें प्रति महीने 10 हजार मानदेय रवरूप देने की घोषणा की है। बता दें कि अभी कुछ ही दिन पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा था कि कांग्रेस यूपी की महिलाओं का सशक्तिकरण चाहती है और इसके लिए वो हर संभव प्रयास करेंगी। इसी बात को ध्यान में रखकर इन्होने ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा दिया और साथ ही आगामी यूपी विधानसभा चुनावों में महिलाओं को अपनी पार्टी के 40 फीसद सीटों पर टिकट देने की घोषणा की थी।

Related Articles

Back to top button
Live TV