फर्रुखाबाद : गड्ढों में सडक़ है या फिर सडक़ पर गड्ढे, यूपी के इस रेलवे अंडरपास का अजीबों-गरीब हाल…

बुजुर्ग कहा करते हैं स्वर्ग और नरक यहीं होते हैं, इसके लिए मर कर जाने की आवश्यकता नहीं है। फर्रुखाबाद की सडक़ें और अंडरपास जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा की शिकार हैं। जिले में बने अंडरपास तो नारकीय स्थिति है। वही सडक़ की स्थिति नारकीय है। सच कहें तो इस सडक़ पर खतरों के खिलाड़ी ही सफर कर पाते हैं। ढिलावल तिराहे से जैसे ही बेवर रोड की तरफ लोग रुख करते हैं, नरक के दर्शन शुरू हो जाते हैं। पता ही नहीं चलता कि गड्ढों में सडक़ है या फिर सडक़ पर गड्ढे।

भारत सरकार ने बेरोजगारी बढ़ाने और गेटमैनों की छुट्टी करने के लिए रेलवे का अण्डरपास बनवाया। हकीकत यह है कि इस योजना के बनने के दौरान ही नागरिकों ने विरोध किया था, लेकिन उसे नजरंदाज कर दिया गया। अब अंडरपास में जलभराव होने से लोग भुगत रहे हैं। जिले में लगभग 14 अण्डरपास बने है। इसमें सन्देह नहीं, इससे लोगों का समय बचता है, लेकिन समय बचाने के लिए हजारों लोग काम से वंचित हो गए। जल निकासी की व्यवस्था यहाँ इतनी लचर है कि हल्की बरसात में ही अण्डरपास में पानी भर जाता है। तस्वीर बयाँ कर रही है कि अण्डरपास से न निकलकर खतरों के खिलाड़ी रेलवे लाइन क्रास करके इधर-उधर जा रहे हैं। इनमें स्कूल की छात्राएं भी हैं। अण्डरपास में अक्सर टेम्पो पलट जाते हैं, बाइक सवार फिसल जाते हैं। इन अंडरपासों में कई हादसे हो चुके है। कई लोगो की जान जा चुकी है।

बरसात होने के बाद आने-जाने वालों के पास दो ही विकल्प हैं, अण्डरपास से गुजरिए या फिर जान जोखिम में डालकर रेलवे लाइन क्रास कीजिए।यह केवल एक दो सड़को का आलम नहीं है। पुरे जिले के अण्डरपास का यही हाल है।मोहम्मदाबाद-संकिसा मार्ग पर गांव बहादुर नगला के निकट बने अंडरपास में कई फीट पानी भरा है। बौद्ध तीर्थ स्थल आने-जाने वाले श्रद्धालु व क्षेत्रीय नागरिकों के लिए यह सड़क सर्वाधिक सुगम थी, लेकिन अंडरपास बनने के बाद से मुसीबत बढ़ गई।

जिन लोगों को पानी भरा होने की जानकारी है वह कई किलोमीटर चक्कर काटकर जिला मुख्यालय व बौद्ध तीर्थस्थल आते-जाते हैं, लेकिन बाहरी लोगों के वाहन अंडरपास में फंस जाते हैं। कई घंटो बाद पंपिग सेट लगाकर पानी निकालने का काम किया जाता है । रेलवे ने कुछ अंडरपास में पानी रोकने के लिए टीनशेड लगाए थे, इसके बावजूद पानी भर रहा है। वही बीजेपी सांसद मुकेश राजपूत ने माना की देश में बने सभी अण्डरपास में पानी भर रहा है। अब जल्द ही कोई नहीं टेक्निक के जरिये पानी भरने से रोका जायेगा।

Related Articles

Back to top button
Live TV