G -20 की तैयारियां हुईं पूरी, मेहमानों के स्वागत में दुल्हन की तरह सजी काशी, देखें तस्वीरें…

जी-20 समिट की बैठक वाराणसी में 11 से 13 जून के बीच होना है। ऐसे में मेहमानों के स्वागत के लिए काशी को बेहद ही आकर्षक रूप में सजाया गया है।

वाराणसी; जी-20 समिट की बैठक वाराणसी में 11 से 13 जून के बीच होना है। ऐसे में मेहमानों के स्वागत के लिए काशी को बेहद ही आकर्षक रूप में सजाया गया है। सम्मेलन के बैठक में विश्व के 20 देशों के डेवलपमेंट मिनिस्टर शामिल होने के लिए वाराणसी पहुंचे। तीन दिवसीय बैठक के दौरान अतिथियों को काशी भ्रमण करवाया जाएगा। जी -20 सम्मेलन में आने वाले अतिथियों का स्वागत वसुधैव कुटुंबकम के तर्ज पर किया जाएगा।

शहर में लगाए गए अर्नामेंटल टावर से बढ़ी शोभा

जी -20 सम्मेलन में आने वाले मेहमानों से पहले काशी की तस्वीर को बदल दिया गया है। शहर में स्वच्छता से लेकर जगह-जगह लगाए गए बागवानी, आकर्षक लाइटों के साथ स्क्लपचर से सजाया गया है। इन सब में सबसे खास काशी की खुबसूरती में आर्नामेंटल टावर चार चांद लगा रहे हैं। काशी को सजाने और संवारने में सरकार कोई भी कोर कसर नही छोड़ा है।

विदेश मंत्रालय की टीम ने लिया तैयारियों का जायजा

11 जून से शुरू होने वाले सम्मलेन से पहले तैयारियों को लेकर जिला प्रशासन की अगुवाई में विदेश मंत्रालय की टीम वाराणसी में होने वाले बैठक की तैयारियों का जायजा लिया। टीपीसी में होने वाले जी- 20 सम्मेलन स्थल के साथ डेवलपमेंट मिनिस्टर्स और डेलीगेट्स को काशी भ्रमण के दौरान जिन मार्गों से होकर जाना है और जिन स्थानों पर जाना है, वहां विदेश मंत्रालय की टीम ने निरीक्षण किया।

G-20 देश के डेलीगेट्स देखेंगे मां गंगा की विश्व प्रसिद्ध आरती

G-20 समिट में शामिल होने वाले डेलीगेट्स बैठक के पश्चात 3 दिनों तक काशी की सभ्यता और संस्कृति से रूबरू होंगे। भगवान बुद्ध की उपदेश स्थली से लेकर मां गंगा में नौका विहार और बाबा विश्वनाथ मंदिर में विदेशी डेलीगेट्स जाएंगे। ऐसे में नमो घाट की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। नमो घाट से डेलीगेट्स नौका विहार करते हुए क्रूज से मां गंगा की होने वाली नित्य संध्या आरती देखेंगे। वही मेहमानों के लिए मां गंगा की आरती भी विशेष होने वाली है।

रिपोर्ट : नीरज जायसवाल, वाराणसी

Related Articles

Back to top button
Live TV