गौतम अडानी ने 20,000 करोड़ के FPO का किया ऐलान, बोले- भारत की विकास गाथा के अनुरुप है ये फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर

गौतम अडानी ने कहा कि हम अपने पोर्टफोलियो के विस्तार में तेजी ला रहे हैं. ऐसी स्थिती में मौजूदा भारत से बेहतर लॉन्चिंग पैड ना पहले कोई हो सकता था और ना अभी कोई है. अडानी एंटरप्राइजेज के भीतर इस पोर्टफोलियो में अब बी2बी और बी2सी दोनों व्यवसाय शामिल हैं. इसके तहत एक विश्व अग्रणी हाइड्रोजन पारिस्थितिकी तंत्र, एकीकृत ऊर्जा मूल्य श्रृंखला, खनन सेवाएं, हवाई अड्डे, डेटासेंटर, रक्षा, डिजिटल ऐप, सड़कें, मीडिया, खाद्य FMCG और औद्योगिक विनिर्माण शामिल हैं.

अडानी समूह के चेयरपर्सन गौतम अडानी ने सोमवार को फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर रोड शो सम्मेलन को लेकर अपना संबोधन दिया. इस दौरान उन्होंने बताया कि कैसे उनकी कंपनी अडानी एंटरप्राईजेज लिमिटेड ने विपरित आर्थिक हालातों में बाजार की उथल-पुथल का सामना किया और मजबूत बनकर उभरी. उन्होंने कहा कि साल 2022 में कंपनी ने सभी आर्थिक पहलुओं का परीक्षण किया और उसमें ये तथ्य सामने आया है कि बाजार में प्रतिकुल परिस्थितीयों के बावजूद भी AEL ने अभूतपूर्व प्रदर्शन किया.

उन्होंने कहा कि हमने जो नतीजे दिए हैं, वे हमारी रणनीति, हमारे ग्राहकों के भरोसे और हमारी प्रबंधन टीम की ताकत का प्रमाण हैं. हमारी भविष्य की विकास योजनाओं के मूल में अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड है. AEL एक ऐसी इकाई है जिसने बाजार के कई प्रमुख व्यवसायों को इनक्यूबेट किया है. जो आज सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों से अडानी समूह पोर्टफोलियो का निर्माण करती है. अडानी एंटरप्राइजेज ने पिछले 30 वर्षों में जिस बिजनेस मॉडल को स्थापित और परिष्कृत किया है, उसने हमें लगातार रिकॉर्ड तोड़ रिटर्न देने में सक्षम बनाया है.

हमारा ध्यान चार प्रमुख क्षेत्रों – ऊर्जा और उपयोगिताओं, परिवहन और रसद, उपभोक्ता वस्तुओं और प्राथमिक उद्योगों पर रहा है. हम इन सभी क्षेत्रों में बाजार में अग्रणी स्थिति रखते हैं. हमारे पहले आईपीओ के बाद से, 29 साल पहले 1994 में, अडानी एंटरप्राइजेज में निवेश किया गया एक रुपया 37% की CAGR से बढ़ा है, जबकि इसी अवधि में भारतीय शेयर बाजार में 10% CAGR की बढ़त देखी गई है.

गौतम अडानी ने AEL के आगामी FPO की विशेषताओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि

  • यह FPO एक ऐसे समय में आ रहा है जब हम अपने सबसे मजबूत स्तर पर हैं और हमारा अधिकांश विकास अभी भी हमसे आगे है.

  • यह एक ऐसे समय में आ रहा है जब हम मौजूदा और उभरते दोनों उद्योगों में अपने पोर्टफोलियो का विस्तार कर रहे हैं.

  • और यह तब आ रहा है जब भारत साल 2050 तक 30 ट्रिलियन डॉलर वाली अर्थव्यवस्था बनने के रास्ते पर बढ़ चला है.

गौतम अडानी ने कहा कि हम अपने पोर्टफोलियो के विस्तार में तेजी ला रहे हैं. ऐसी स्थिती में मौजूदा भारत से बेहतर लॉन्चिंग पैड ना पहले कोई हो सकता था और ना अभी कोई है. अडानी एंटरप्राइजेज के भीतर इस पोर्टफोलियो में अब बी2बी और बी2सी दोनों व्यवसाय शामिल हैं. इसके तहत एक विश्व अग्रणी हाइड्रोजन पारिस्थितिकी तंत्र, एकीकृत ऊर्जा मूल्य श्रृंखला, खनन सेवाएं, हवाई अड्डे, डेटासेंटर, रक्षा, डिजिटल ऐप, सड़कें, मीडिया, खाद्य FMCG और औद्योगिक विनिर्माण शामिल हैं.

इनमें से प्रत्येक क्षेत्र ‘आत्मनिर्भर भारत से, भारत पर निर्भर दुनिया’ में जाने की भारत की महत्वाकांक्षाओं के अनुरूप है. एक बड़े जनसांख्यिकीय लाभ, राजकोषीय जिम्मेदारी, मजबूत शासन, दुनिया में एक जिम्मेदार शक्ति के रूप में स्थिति – ये सभी इस युग को भारत के विकास और स्थिरता का युग होने की ओर इशारा करते हैं.

गौतम अडानी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि यह अडानी एंटरप्राइजेज FPO हमारे 10 साल के पूंजी नियोजन चक्र का एक हिस्सा है जो पूरी तरह से वित्त पोषित और जोखिम रहित विकास योजना द्वारा समर्थित है. यह भारत की विकास गाथा के अनुरूप है. हमारी क्षमताओं के अनुरुप है और भारत के खुदरा हितधारकों की जरुरतों के अनुरुप है.

FPO के साथ हमारा इरादा भारत के खुदरा निवेशकों पर विशेष ध्यान देने के साथ अपनी शेयर रजिस्ट्री का विस्तार करना है. FPO हमारे शेयरधारकों के रूप में नए सार्वजनिक इक्विटी निवेशकों को लाने के हमारे इरादे की पुष्टि है. उन्होंने आगे कहा कि मुझे यहां यह भी जोड़ना चाहिए कि ESG पर हमारे ध्यान को देखते हुए, हमारा हर एक व्यवसाय जिम्मेदार तरीके से मूल्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध है. वास्तव में, हमारे चल रहे ESG initiatives के परिणामस्वरूप हम भारत में एकमात्र कंपनी हैं जो अपने संचालन वाले क्षेत्रों के भीतर – Dow Jones सस्टेनेबिलिटी इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स में शामिल है.

Related Articles

Back to top button
Live TV