पेट्रोल-डीजल पर टैक्स से सरकार ने कमाए पिछले 3 साल में 8 लाख करोड़

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को संसद में बताया की सरकार ने पिछले तीन वित्तीय वर्षों में पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए करों से लगभग 8 लाख करोड़ रुपये कमाए है। जिसमें से केवल 2020-21 में ही 3.71 लाख करोड़ रुपये से अधिक एकत्र किए गए, उन्होंने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में जानकारी दी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को संसद में बताया की सरकार ने पिछले तीन वित्तीय वर्षों में पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए करों से लगभग 8 लाख करोड़ रुपये कमाए है। जिसमें से केवल  2020-21 में ही 3.71 लाख करोड़ रुपये से अधिक एकत्र किए गए, उन्होंने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में जानकारी दी।

इसके साथ ही सीतारमण ने लिखित उत्तर में बताया कि 5 अक्टूबर, 2018 को पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 19.48 रुपये प्रति लीटर था, जो कि बढ़कर 4 नवंबर, 2021 को 27.90 रुपये प्रति लीटर हो गया. इस अवधि के दौरान डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 15.33 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 21.80 रुपये हो गया।

वित्त मंत्री ने आगे बताया कि सरकार ने पिछले तीन वर्षों के दौरान पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले सेस सहित केंद्रीय उत्पाद शुल्क से 2018-19 में 2,10,282 करोड़ रुपये एकत्रित किया जबकि  2019-20 में 2,19,750 करोड़ रुपये और 2020-21 में 3,71,908 करोड़ रुपये कमाए है।

Related Articles

Back to top button
Live TV