थम गई श्रीकांत के खिलाफ सरकार की कार्रवाई, अवैध मार्केट पर नहीं लिया गया कोई बड़ा एक्शन

जिसके बाद सख्ती दिखाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन अब इस मामले को सरकार फिर से दबाने का प्रयास कर रही है...

नोएडा की ओमेक्स सोसाइटी में महिला से अभद्रता के मामले में सरकार के हस्तक्षेप होते ही जाँच ने शीघ्रता पकड़ ली है। अब इस मामले में पुलिस ने श्रीकांत ऊर्फ लंगड़ा त्यागी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया था। एसीएस होम अवनीश अवस्थी अब इस पूरे मामले में की खुद मॉनिटरिंग करते हुए त्यागी को गिरफ्तार कराया था। लेकिन अब उस पर चल रही सभी कार्यवाई को रोक दिया गया है। माना जा रहा की नोएडा अथॉरिटी,प्रशासन और पुलिस की आपस में सेटिंग है। त्यागी और उसकी पत्नी को मिले 7 गनरों की जाँच को भी रोक दिया गया है। वक्त के साथ साथ त्यागी पर सरकार का एक्शन भी धीमा होता जा रहा है।

एसीएस होम ने जिम्मेदारी लेते हुए कहा था कि नोएडा पुलिस 2 साल से त्यागी को संरक्षण देती रही है। जिसके चलते सरकार की बदनामी हुई है। जिसके बाद सख्ती दिखाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन अब इस मामले को सरकार फिर से दबाने का प्रयास कर रही है।

जानकारी के मुताबिक नोएडा के भंगेल में त्यागी की 15 अवैध दुकानें हैं, साथ ही त्यागी की एक अवैध मार्केट भी है। त्यागी के पास 6 लग्जरी गाड़ियां हैं। यूपी,दिल्ली और उत्तराखंड में कई अवैध कारोबार हैं। यूपी में त्यागी का अरबों का साम्राज्य है। योगी सरकार की तरफ से उनकी अवैध दुकानों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

बता दें कि पिछले रविवार देर रात श्रीकांत त्यागी के करीबन 15 गुंडे ओमेक्स सोसाइटी में लोगों से महिला, जिसके साथ त्यागी ने अभद्रता की थी उसके बारे में पूछ रहे थे। जब इस पूछताछ का मामला लोगों को समझ आया तब लोगों ने उनके खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू किया। और पुलिस ने पहुँच कर 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV