क्या पकिस्तान में भी होने वाला है तख्तापलट ? पाकिस्तान आर्मी दे रही है ये संकेत…

पाकिस्तान आर्मी का निष्क्रिय रवैया कट्टर इस्लामिक दक्षिणपंथी संगठन तहरीक-ए-लबैक पाकिस्तान के हिंसक प्रदर्शन को लगातार हवा दे रहा है। पाकिस्तान की सेना, आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा के निर्देश पर प्रदर्शन को ऐसे ही चलने देने की कवायद कर रही है। वो पकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को TLP के मुद्दे पर बैकफुट पर लाना चाहती है।

पाक आर्मी इमरान खान सरकार की मुश्किलें बढ़ाने की कोशिशों में लगी हुई हैं। दरअसल, बीते कई महीनों से पाकिस्तान के कट्टर इस्लामिक दक्षिणपंथी संगठन तहरीक-ए-लबैक पाकिस्तान (TLP) वहां प्रदर्शन कर रहा है और हिंसा को भड़का रहा है। बीते बुधवार को एक प्रदर्शन के दौरान TLP के कुछ समर्थकों ने भरी भीड़ में गोलीबारी कर दी जिसमें 260 लोग घायल हो गए और 3 पुलिसकर्मियों की जान भी चली गई।

पाकिस्तान आर्मी इस प्रदर्शन को जारी रहने देना चाहती है। वो खुद चाहती है कि इमरान सरकार अस्थिर हो जाए और TLP के मुद्दे पर बैकफुट पर आ जाए। इमरान सरकार ने इस प्रदर्शन को रोकने के लिए TLP से बातचीत की थी लेकिन यह वार्ता बेनतीजा रही। अब इमरान सरकार चाहती है कि जल्द से जल्द पूरे प्रदर्शन को खत्म किया जाए क्योंकि इस प्रदर्शन के व्यापक हिंसक रूप लेने की संभावना जताई जा रही है।

आपको बता दें कि, पाकिस्तान में इस कट्टर इस्लामिक दक्षिणपंथी संगठन TLP के प्रमुख नेता साद रिजवी को बीते कुछ महीनों पहले गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद उसको रिहा कराने के लिए इस प्रदर्शन ने तूल पकड़ा। इसके अलावा फ्रांस की सरकार का पाकिस्तान पर दबाव भी इस घटनाक्रम की वजह है। क्योंकि बीते साल पाकिस्तान में जब TLP ने फ्रांस विरोधी मुहिम चलाई और पाकिस्तान से फ्रांस के राजदूत को निकालने की मांग को लेकर प्रदर्शन शुरू किया तो इमरान सरकार ने इस संगठन को प्रतिबंधित करने का फैसला किया था। इसके बाद साद रिजवी की गिरफ्तारी हुई और प्रदर्शन और बड़ा होता चला गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + twenty =

Back to top button
Live TV