रामनवमी पर जेएनयू में बवाल: बीएचयू के ABVP और वामपन्थी संगठन ने एक-दूसरे के खिलाफ किया जोरदार प्रदर्शन

वाराणसी. रामनवमी पर जेएनयू (JNU) में हुए बवाल के खिलाफ सोमवार को एबीवीपी (ABVP) और वामपन्थी संगठन ने बीएचयू (BHU) इकाई ने सिंहद्वार पर जोरदार प्रदर्शन किया। एबीवीपी (ABVP) कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि जेएनयू (JNU) में रामनवमी का पूजन करने वाले छात्रों के साथ वामपंथियों ने मारपीट की।

वाराणसी. रामनवमी पर जेएनयू (JNU) में हुए बवाल के खिलाफ सोमवार को एबीवीपी (ABVP) और वामपन्थी संगठन ने बीएचयू (BHU) इकाई ने सिंहद्वार पर जोरदार प्रदर्शन किया। एबीवीपी (ABVP) कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि जेएनयू (JNU) में रामनवमी का पूजन करने वाले छात्रों के साथ वामपंथियों ने मारपीट की। एबीवीपी (ABVP) ने मांग की है कि छात्रों पर हमला करने वालों और रामनवमी पूजन में विघ्न पहुंचाने वालों की गिरफ्तारी की जाए। तो वही इसके विपरीत लेफ्ट के छात्रों ने एबीवीपी (ABVP) पर गुंडागर्दी करने का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी किया। वहीं दोनों छात्र संगठन एक दूसरे के सामने ना आए इसको लेकर वाराणसी की लंका थाना क्षेत्र की पुलिस टीम और काशी हिंदू विश्वविद्यालय की प्रॉक्टोरियल बोर्ड की टीम मुख्य द्वार पर तैनात रही।

एबीवीपी (ABVP) की बीएचयू (BHU) इकाई अध्यक्ष अभय पताप सिंह ने कहा कि दिल्ली और कर्नाटक में रामनवमी पर वामपंथी विचारधारा के संगठन वालों ने पूजा पाठ और शोभायात्रा निकाल रहे लोगों पर हमला किया गया। इसी के विरोध में हम आज दिल्ली पुलिस और कर्नाटक सरकार से मांग कर रहे हैं कि छात्रों पर हमला करने वाले उन सभी वामपंथियों को तत्काल गिरफ्तार कर सख्त कार्रवाई की जाए।

वहीं इस पूरे प्रकरण को लेकर वामपंथी विचारधारा के छात्र छात्राओं ने एबीवीपी (ABVP) के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए आरोप लगाया कि जेएनयू (JNU) जैसे संस्था में एबीवीपी (ABVP) के कार्यकर्ता सरकार के इशारे पर गुंडागर्दी कर रहे हैं। रामनवमी के नाम पर एबीवीपी (ABVP) के कार्यकर्ता छात्रों की पिटाई कर रहे हैं जिसका विरोध काशी हिंदू विश्वविद्यालय ही नहीं बल्कि पूरे देश में किया जाएगा। इस पूरे मामले में गुंडागर्दी करने वाले एबीवीपी (ABVP) के कार्यकर्ताओं के ऊपर कार्यवाई होनी चाहिए।

Related Articles

Back to top button