Kanpur: वार्डन ने मामला दबाया छात्राओं को धमकाया फिर हुआ फरार, चंडीगढ़ जैसे हुआ बवाल

चंडीगढ़ के बाद कानपुर हॉस्टल में हुए MMS कांड ने सबको चौंका कर रख दिया है। साईं निवास हॉस्टल में एक कर्मचारी द्बारा छात्रा का नहाते हुए वीडियो बनाते हुए पकड़े जाने पर खूब बवाल हुआ

चंडीगढ़ के बाद कानपुर हॉस्टल में हुए MMS कांड ने सबको चौंका कर रख दिया है। साईं निवास हॉस्टल में एक कर्मचारी द्बारा छात्रा का नहाते हुए वीडियो बनाते हुए पकड़े जाने पर खूब बवाल हुआ। मामला पुलिस के संज्ञान में आने के बाद कर्मचारी को गिरफ्तार कर मोबाइल को कब्जे में ले लिया गया है।

चंढीगढ़ के एक निजी विश्वविद्यालय में हुई घटना नें सबको चौंका कर रख दिया था। विश्वविद्यालय में छात्राओं के नहाते हुए वीडियों बनाए गए और उसे वायरल कर दिया गया, जिसके बाद जबरदस्त बवाल हुआ था। अब वैसा ही मामला एक बार फिर यूपी के कानपुर से आया है, यहा पर एक प्राइवेट गर्ल्स हॉस्टल में MMS कांड का खुलासा हुआ है। हॉस्टल में पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र नाथ तिवारी के नाम की नेम प्लेट लगी है जो वर्तमान में एसपी सिटी बुलंदशहर है। सुरेन्द्र नाथ तिवारी कानपुर में लंबे समय तक तैनात रहे हैं। पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र नाथ तिवारी के नाम की नेम प्लेट लगे रावतपुर स्थित एक मकान में गर्ल्स हॉस्टल संचालित होता है। जिसमें करीब 60 छात्राएं रहती हैं और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए कोचिंग करती हैं।

साईं निवास हॉस्टल में छात्रा ने एक कर्मचारी को नहाते हुए वीडियो बनाते हुए पकड़ा जिसके बाद वार्डन ने मामला दबाया और छात्राओं को धमकाया जिसके बाद हंगामा बढ गया और खूब बवाल हुआ। जिसके बाद हॉस्टल के सफाई कर्मी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। छात्राओं का आरोप है कि कर्मचारी के मोबाइल में कई अश्लील वीडियो हैं। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है लेकिन वार्डन और केयरटेकर फरार है।

Related Articles

Back to top button
Live TV