कांसगज : पुलिस कस्टडी मौत मामले ने पकड़ा सियासी तूल, विपक्ष हमलावर, मृतक के परिजनों से मिलेंगी प्रियंका

उत्तरप्रदेश के कासगंज जिले के सदर कोतवाली में युवक की लॉकअप में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने के बाद यूपी पुलिस और योगी आदित्यनाथ सरकार पर इस मामले को लेकर तमाम विपक्षी पार्टीयां हमलावर हैं. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से लेकर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी तक इस मामले को लेकर योगी सरकार को घेर रहे हैं।

कासगंज. उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले के सदर कोतवाली में युवक की लॉकअप में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने के बाद यूपी पुलिस और प्रदेश सरकार पर इस मामले को लेकर तमाम विपक्षी पार्टीयां हमलावर हैं. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से लेकर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी तक इस मामले को लेकर योगी सरकार को घेर रहे हैं।

इसके साथ ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर कहा है, क्या उत्तर प्रदेश में मानवाधिकार नाम की कोई चीज नहीं बची है ? वहीं बताया जा रहा है कि अब इस मामले को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज कासगंज का दौरा कर सकती हैं।

Koo App
#Kasganj ➡कासंगज में पुलिस कस्टडी में मौत का मामला ➡कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव तौकीर आलम पहुंचे कासगंज ➡मृतक अल्ताफ के घर पहुंचा कांग्रेस का डेलिगेशन ➡रात ज्यादा होने की वजह से परिजनों से नहीं हुई मुलाकात ➡आज प्रियंका गांधी के कासगंज आने की उम्मीद ➡एक दर्जन से अधिक कांग्रेसी पहुंचे थे मृतक के घर ➡दोषी पुलिसकर्मियों पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग।
भारत समाचार (@bharatsamachar) 11 Nov 2021

आपको बता दे कि युवक पर एक किशोरी को अगवा करने का आरोप था। जिसके बाद पुलिस  उस युवक को 8 नवंबर देर शाम उसके घर से अपने साथ शहर कोतवाली लेकर पहुंची थी। जिसके बाद युवक जेल के टॉयलेट में फांसी के फंदे से लटका मिला। मृत युवक कासगंज कोतवाली क्षेत्र के अहरौली गांव का रहने वाला है, जिसका नाम अल्ताफ बताया जा रहा है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV