काशी विश्वनाथ कॉरिडोर बनकर तैयार, विश्व फलक पर नए रूप में दिखेगी काशी की तस्वीर…

काशी विश्वनाथ धाम के उद्घाटन महोत्सव को भव्य बनाने के लिए मंदिर प्रशासन पूरी तरह से तैयारियों में जुटा हुआ है। बाबा धाम महोत्सव के अवसर पर देशी और विदेशी फूलों की खुशबू से महक उठेगा। लोकार्पण के बाद काशी के हर घर में पहुंचेगा बाबा का प्रसाद, देवालयों, कुंडों, गंगा घाट आदि की सफाई के साथ पूरे शहर को रोशनी से सजाया जा रहा है। मेहमानों के स्वागत के लिए तैयारी में जुटे काशीवासी।

वाराणसी, 10 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय फलक पर काशी की तस्वीर नए रूप में दिखेगी। श्री काशी विश्वनाथ धाम के भव्य निर्माण के बाद अब लोकार्पण की तैयारी जोरों पर हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की योजना पर प्रशासन तेजी से काशी को संवारने का काम कर रहा है। साथ ही काशीवासी भी अपने मेहमानों के स्वागत के लिए देवालयों कुंडों, गंगा घाट आदि की सफाई में जुट गए हैं और पूरे शहर को रोशनी से सजाया जा रहा है। लोकार्पण के बाद काशी विश्वनाथ का प्रसाद घर-घर पहुंचाया जाएगा।

प्रधानमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट श्री काशी विश्वनाथ धाम अब पूर्णता की तरफ है। प्रधानमंत्री 13 दिसंबर को अपने संसदीय क्षेत्र में आएंगे और श्री विश्वनाथ धाम जनता को समर्पित करेंगे। इसके लोकार्पण को यादगार बनाने के लिए योगी सरकार जुटी है ताकि बदलते भारत की नई तस्वीर पूरी दुनिया देख सके।

वाराणसी के मंडलायुक्त व श्री काशी विश्वनाथ मंदिर कार्यपालक समिति के अध्यक्ष दीपक अग्रवाल ने बताया कि यह ऐतिहासिक पल है। सैकड़ों साल बाद श्री काशी विश्वनाथ धाम का जीर्णोद्धार हो रहा है। भव्य लोकार्पण की तैयारी की जा रही है, ताकि देश और विश्व भर के लोग इस पल के साक्षी बनें और अपनी आने वाली पीढ़ियों को श्री काशी विश्वनाथ के जीर्णोद्धार के काम की सफलता के बारे में बता सकें। लोग सैकड़ों सालों तक इसे याद रखेंगे।

मंदिर कार्यपालक समिति के अध्यक्ष ने बताया कि लोकार्पण के लिए शहर में साफ़-सफाई का अभियान चलाया जा रहा है। गंगा के घाटों और कुंडों की सफाई और साज-सज्जा किया जा रहा है। गंगा के दोनों किनारे क़रीब 11 लाख दीप रोशनी बिखेरेंगे। सरकारी भवनों को भी रोशनी से सजाया जा रहा है। मंदिरों को आकर्षक तरीके से सजाया जा रहा है। भजन संध्या का आयोजन हो रहा है। लोगों से अपने घरों पर लाइटिंग करने और लोकार्पण के दिन दीपों को जलाने की अपील की गई है। इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान को क्रमशः 51, 21 और 11 हज़ार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। हर वार्ड में मंडली ने सुबह कीर्तन भजन शुरू कर दिया है। लोकार्पण के बाद काशी के हर घर में 13 से 16 दिसम्बर के बीच श्री काशी विश्वनाथ न्यास की तरफ से बाबा का प्रसाद और पुस्तिका भी वितरित की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
Live TV