Lucknow : सीएम योगी से IPS डीएस चौहान ने की मुलाकात, कल ही मिला डीजीपी का चार्ज…

उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक पुलिस महानिदेशक का पद संभालने के बाद देवेन्द्र सिंह चौहान ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिष्टाचार मुलाकात की। डीएस चौहान ने सीएम योगी से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की। कल ही डीएस चौहान को डीजीपी का चार्ज मिला। डीएस चौहान को DGP का अतिरिक्त प्रभार मिला।

बता दें, आईपीएस देवेंद्र सिंह चौहान को गुरूवार को उत्तर प्रदेश के डीजीपी का पद भार दिया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने चौहान को केंद्र से वापस मांगा था। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने इसके लिए स्वीकृति दे दी थी। डीएस चौहान को डीजीपी का अतिरिक्त चार्ज भी दिया गया है। इंटेलिजेंस और विजिलेंस का भी चार्ज बना रहेगा।

बता दें, ACS होम अवनीश अवस्थी ने आदेश जारी किया है। गौरतलब है कि देवेंद्र सिंह चौहान 1988 बैच के डीजी रैंक अफसर हैं। वह मेहनती और कुशल अधिकारी माने जाते हैं। बीते मार्च में ही महानिदेशक के पद पर प्रोन्नत देवेंद्र सिंह चौहान फिलहाल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) में महानिरीक्षक (आइजी) के पद पर तैनात थे। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश सरकार की मांग पर चौहान को उनके मूल कैडर में भेजने की स्वीकृति दे दी थी।

बता दें, उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रमुख मुकुल गोयल पर बुधवार को प्रशासनिक कार्रवाई की गई। उन्हें उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रमुख पद से हटा दिया गया। डीजीपी मुकुल गोयल पर अपने कर्तव्यों की कथित रूप से उपेक्षा करने और विभागीय कार्रवाई में रुचि ना लेने के कारण यह कार्रवाई की गई।

दरअसल, डीजीपी मुकुल गोयल ने जून 2021 में उत्तर प्रदेश पुलिस महानिदेशक के रूप में अपना कार्यभार संभाला था। प्रशासन का चाबुक चलने के बाद अब उन्हें DG नागरिक सुरक्षा के रूप में तैनात किया जाएगा। हालांकि तबादले के पीछे अभी तक कोई आधिकारिक कारण नहीं बताया गया है।

सूत्रों के मुतबिक, शासन द्वारा गोयल को अपने विभागीय कार्यों में कथित रूप से कम दिलचस्पी दिखाने और आदेशों की अवहेलना करने के कारण यह कार्रवाई करनी पड़ी है। डीजीपी मुकुल गोयल का नागरिक सुरक्षा के DG के रूप में तबादला करने के पीछे कई कारण बताए जा रहे हैं।

सबसे बड़ा कारण यह भी है कि पिछले महीने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजित हुई एक बैठक में वो अनुपस्थित रहे थे। तब से यह कयास लगाए जा रहे थे कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ डीजीपी मुकुल गोयल से नाखुश हैं। बहरहाल इस बड़े प्रशासनिक फेरबदल के बाद ये कयास यकीन में बदलती दिख रही है।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

6 + 7 =

Back to top button
Live TV