Kanpur को मिली मेट्रो की सौगात, टिकट लेकर PM मोदी ने की मेट्रो की सवारी…

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानपुर में मेट्रो रेल परियोजना के प्रथम सेक्शन का शुभांरभ किया। इस दौरान टिकट लेकर पीएम मोदी और सीएम योगी ने कानपुर मेट्रो से सफर किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी बोले, डबल इंजन की सरकार से यूपी के विकास को नई रफ्तार मिल रही है। आज कानपुर के लोगों के लिए ही खुशी का दिन नहीं है, वरुण देवता को भी इस खुशी में हिस्सा लेने का मन कर गया कानपुर के लोगों का जो मिजाज है, जो कनपुरिया अंदाज है। जो उनकी हाजिर जवाबी है, उसकी तुलना ही नहीं की जा सकती है।

पीएम ने कहा, आज मंगलवार है और पनकी वाले हनुमानजी के आशीर्वाद से आज UP के विकास में एक और सुनहरा अध्याय जुड़ रहा है। आज कानपुर को मेट्रो की कनेक्टिविटी मिली है। साथ ही बीना रिफाइनरी से भी कानपुर अब कनेक्ट हो गया है। यूपी में पहले जिन लोगों ने सरकार चलाई, उन्होंने समय की अहमियत कभी नहीं समझी।

प्रधानमंत्री मोदी बोले, 21वीं सदी के जिस कालखंड में यूपी को जिस तेज गति से प्रगति करनी थी, उस अमूल्य समय को, अहम अवसर को पहले की सरकारों ने गंवा दिया। आज उत्तर प्रदेश में जो डबल इंजन की सरकार चल रही है, वो बीते कालखंड में समय का जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई में जुटी है। हम डबल स्पीड से काम कर रहे हैं।

पीएम ने कहा, जिस यूपी को कभी अवैध हथियारों वाली गैंग के लिए बदनाम किया गया था, वही उत्तर प्रदेश देश की सुरक्षा के लिए डिफेंस कॉरिडोर बना रहा है। इसीलिए यूपी के लोग कह रहे हैं- फर्क साफ है। दशकों तक हमारे देश में ये स्थिति रही कि एक हिस्सा का तो विकास हुआ, दूसरा पीछे ही छूट गया। राज्यों के स्तर पर, समाज के स्तर पर इस असमानता को दूर करना उतना ही जरूरी है। इसलिए हमारी सरकार सबका साथ-सबका विकास के मंत्र पर काम कर रही है।

उन्होने कहा, जो लोग पहले सरकार चलाते थे, वो इस मानसिकता के साथ सरकार चलाते थे कि लॉटरी लगी है, जितना लूट सको लूट लो। यूपी में पहले की सरकारें जो परियोजनाएं शुरू करती थीं, उनमे कैसे हजारों करोड़ रुपये का घोटाला हो जाता था। पहले की सरकरों ने कभी जनता के लिए काम किया ही नहीं। उन्होंने जनता को अपना माना ही नहीं।

लेकिन अब यूपी में डबल इंजन की सरकार हर योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचा रही है। 2014 से पहले यूपी में मेट्रो की लंबाई 9 किमी थी। 2014 से 2017 के बीच मेट्रो की लंबाई 18 किमी हुई। लेकिन अब यूपी में मेट्रो की लंबाई की 90 किमी है। कहां 9 किमी और कहां 90 किमी। 2014 तक देश में सिर्फ 14 करोड़ LPG गैस कनेक्शन थे। आज देश में 30 करोड़ से ज्यादा LPG गैस कनेक्शन है।अकेले यूपी में लगभग 1.60 करोड़ गरीब परिवारों को नए LPG गैस कनेक्शन दिए गए हैं।

Related Articles

Back to top button
Live TV