किशोर सम्प्रेषण गृह में नाबालिग मुजरिम दिखा रहे अपने हाथों का हुनर

हल्द्वानी कालाढूंगी रोड स्थित राजकीय महिला कल्याण एवं पुनर्वास केंद्र और इसी परिसर में बने किशोर सम्प्रेषण गृह में किसी न किसी गुनाह की सजा काट रहे नाबालिग मुजरिम और संवासिनियां अपने आने वाले कल को बेहतर बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

हल्द्वानी कालाढूंगी रोड स्थित राजकीय महिला कल्याण एवं पुनर्वास केंद्र और इसी परिसर में बने किशोर सम्प्रेषण गृह में किसी न किसी गुनाह की सजा काट रहे नाबालिग मुजरिम और संवासिनियां अपने आने वाले कल को बेहतर बनाने का प्रयास कर रहे हैं। जुर्म तो वो कर बैठे और उसकी सजा भी काट रहे हैं। मगर पश्चाताप कर आगे की जिंदगी खुशहाल और अपने दम पर जिंदगी की जद्दोजहद से लड़ने को तैयार हो रहे हैं।

वहीं संप्रेषण गृह के कार्मिक भी उन्हें हौंसला और रचनात्मकता के जरिए आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। पढ़ाई के साथ उन्हें स्वावलंबी बनाने को तैयार किया जा रहा है और हर तीज-त्योहार में उन्हें मौका दिया जाता है अपने अंदर के हुनर को पहचानने का। हर वर्ष की भांति इस बार भी रक्षाबंधन के मौके पर इन लोगों ने अपने हाथों से राखियां तैयार की हैं। वहीं जनमाष्टमी की तैयारियां भी चल रही हैं।

संप्रेषण गृह प्रबंधन ने कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर चित्रकला प्रतियोगिता भी करवाई है, जिन्हें देख वास्तव में इनके अंदर के छुपे कलाकार और बाल्यपन का बोध होता है। वहीं दूसरी ओर हस्त निर्मित राखियां बाजार में बिकने वाली महंगी राखियों की तुलना में हलांकि कंप्टीशन में खड़ी नहीं होंगी।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV