पॉप फ्रांसिस से मिले मोदी, इस मुलाकात के बाद COP26 बैठक में भाग लेने जाएंगे यूके के ग्लासगो

पोप फ्रांसिस से मुलाकात करने के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर सहित वेटिकन सिटी से रवाना हो गए। इस दौरान उन्होंने पॉप फ्रांसिस को भारत आने का निमंत्रण भी दिया।

पीएम मोदी G-20 शिखर सम्मेलन के लिए रोम के दो दिवसीय दौरे पर हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने शनिवार को पोप फ्रांसिस से मुलाकात की और इसके बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर सहित वेटिकन सिटी से रवाना हो गए। भारतीय प्रधान मंत्री ने आज पोप फ्रांसिस के साथ आमने-सामने की बैठक की और उन्हें भारत आने के लिए आमंत्रित भी किया। समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि बैठक केवल 20 मिनट के लिए निर्धारित की गई थी, लेकिन एक घंटे तक चली।

पीएम मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट से किये गए एक ट्वीट में कहा गया, “पोप फ्रांसिस से बहुत गर्मजोशी के साथ मुलाकात हुई। मुझे उनके साथ कई मुद्दों पर चर्चा करने का अवसर मिला और उन्हें भारत आने का निमंत्रण भी दिया।” पीएम मोदी और पोप फ्रांसिस की यह मुलाकात प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता से पहले हुई, जिसके दौरान उनसे COVID-19 जैसे कई मुद्दों पर चर्चा करने की उम्मीद थी।

विदेश सचिव हर्षवर्धन ने इस मुलाकात के बारे में कल कहा था कि प्रधानमंत्री का पोप के साथ वार्ता के लिए कोई पूर्व-निर्धारित एजेंडा नहीं है। उन्होंने कहा,”मेरा मानना ​​​​है कि जब आप किसी परम पवित्र व्यक्तित्व से मुलाकात करें तो इसके पीछे किसी भी विशेष एजेंडे के लिए बातचीत की कोई परंपरा नहीं होनी चाहिए और मुझे लगता है कि हम इसका सम्मान करते हैं। मुझे यकीन है कि इस मुलाकात के दौरान जिन मुद्दों पर चर्चा होगी वो हम सबके साथ सामान्य वैश्विक परिपेक्ष्य के हितों के सन्दर्भ में बेहद महत्वपूर्ण होंगे।”

आपको बता दें कि इस मुलाकात के बाद पीएम मोदी ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन के निमंत्रण पर COP26 बैठक के लिए यूके के ग्लासगो जाएंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को इटली की राजधानी रोम में भारतीय समुदाय और विभिन्न संगठनों के भारत के मित्रों समेत विभिन्न देशों के लोगों से बातचीत की और रोम में महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि भी अर्पित की थी।

Related Articles

Back to top button
Live TV