नेशनल हेल्थ मिशन कर्मियों ने 4 माह से वेतन न मिलने के कारण काली पट्टी बांध कर किया विरोध !

एनएचएम कर्मियों का एक बार फिर से प्रदेश सरकार के गलत नीतियों को लेकर उबाल नजर आने लगा है। इसके चलते नेशनल हेल्थ मिशन कर्मियों .....

एनएचएम कर्मियों का एक बार फिर से प्रदेश सरकार के गलत नीतियों को लेकर उबाल नजर आने लगा है। इसके चलते नेशनल हेल्थ मिशन कर्मियों को 4 माह से वेतन न मिलने के कारण और मात्र एक-एक माह का NHM कर्मियों का नवीनीकरण किए जाने के विरोध में कर्मियों ने काली फीती बांधकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय टिहरी सहित जनपद भर में अपना विरोध जता रहे हैं। साथ ही प्रदेश भर में भी विरोध जारी है।

इस अवसर पर एनएचएम के प्रदेश अध्यक्ष सुनील भंडारी ने कहा कि एनएचएम कर्मियों को 4 माह से वेतन न मिलने के चलते आर्थिक संकट से गुजरना पड़ रहा है, साथ ही प्रदेश सरकार के द्वारा एनएचएम कर्मियों को एक-एक माह का मात्र नवीनीकरण किया जा रहा है। जबकि भारत सरकार की साफ गाइडलाइन हैं और दिशा निर्देश है कि एनएचएम कर्मियों का साल 2024 तक नवीनीकरण किया जाए। लेकिन प्रदेश सरकार के द्वारा भारत सरकार की गाइडलाइन को सीधा सीधा उल्लंघन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कई और भी मांगे हैं जोकि शासन स्तर पर लटकी पड़ी हुई है। उन्होंने कहा कि 11 सितंबर तक टिहरी जनपद और प्रदेश भर में नेशनल हेल्थ मिशन के कर्मियों के द्वारा काली फीती बांधकर अपना विरोध दर्ज कर रहे हैं,लेकिन 12 सितंबर को स्वास्थ्य निदेशक का देहरादून में घेराव किया जाएगा। उसके बावजूद भी उनकी नीतिगत मांगों को नहीं मांगा गया। तो उसके बाद वह कार्य बहिष्कार कर पूरे प्रदेश भर में आंदोलन करने पर बाध्य एनएचएम कर्मियों को होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार भारत सरकार की जो भी गाइडलाइन हैं उनका उल्लंघन करने का काम कर रही है, इसको लेकर उनका विरोध जारी रहेगा।

Related Articles

Back to top button