आर्यन खान केस से सुर्खियों में आये NCB आधिकारी समीर वानखेड़े हो रहे है रिटायर

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले की जांच का नेतृत्व करने वाले एनसीबी के मुंबई जोन के डायरेक्टर समीर वानखेड़े का कार्यकाल 31 दिसंबर को समाप्त हो रहा है। लेकिन उन्होंने अभी तक सेवा विस्तार की मांग नहीं की है। वानखेड़े को इससे पहले सितंबर माह में 4 महीने का सेवा विस्तार दिया गया था।

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले की जांच का नेतृत्व करने वाले एनसीबी के मुंबई जोन के डायरेक्टर समीर वानखेड़े का कार्यकाल 31 दिसंबर को समाप्त हो रहा है। लेकिन उन्होंने अभी तक सेवा विस्तार की मांग नहीं की है। वानखेड़े को इससे पहले सितंबर माह में 4 महीने का सेवा विस्तार दिया गया था।

समीर वानखेड़े 2008 बैच के भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी है और वह सेवानिवृत्त महाराष्ट्र पुलिस अधिकारी दयानदेव वानखेड़े के बेटे हैं। समीर वानखेड़े ने एयर इंटेलिजेंस यूनिट के डिप्टी कमिश्नर और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के अतिरिक्त एसपी के रूप में भी कार्य किया है।

समीर वानखेड़े ने अगस्त 2020 से दिसंबर 2020 तक 96 लोगों को गिरफ्तार किया। जबकि 2021 में समीर वानखेड़े ने 234 लोगों को गिरफ्तार किया। इसके साथ ही उनहोंने लगभग 1000 करोड़ रुपए की 1791 किलोग्राम से अधिक की ड्रग्स जब्त की और 11 करोड़ से अधिक की संपत्ति को फ्रीज किया।

Related Articles

Back to top button
Live TV