8 राज्यों में PFI के 25 ठिकानों पर एनआईए का छापा, संगठन से जुड़े 6 लोग गिरफ्तार

पीएफआई पर शिकंजा कसनें के लिए एजेंसिया लगातार छापेमारी कर रही हैं. आज फिर एनआईए नें देश के 8 राज्यों में छापेमारी की है. यूपी, एमपी,पंजाब,दिल्ली, केरल, गुजरात, कर्नाटक और असम में एनआईए के ठिकानों पर छापेमारी की है.

Desk: पीएफआई पर शिकंजा कसनें के लिए एजेंसिया लगातार छापेमारी कर रही हैं. आज फिर एनआईए नें देश के 8 राज्यों में छापेमारी की है. यूपी, एमपी,पंजाब,दिल्ली, केरल, गुजरात, कर्नाटक और असम में एनआईए के ठिकानों पर छापेमारी की है. इन आठ राज्यो के 25 पीएफआई के ठिकानों पर एनआईए नें छापा मारा है और संगठन से जुड़े 6 लोगों को हिरासत में लिया है. एजेंसियों को कहना है पहले की छापेमारी में मिली लीड के आधार पर आज की ये रेड मारी गई है. मेरठ से लेकर बुलंदशहर तक NIA की छापेमारी जारी है.

पीएफआई कनेक्शन में लखनऊ में भी रात भर छापेमारी इस संगठन के लखनऊ में 2 ठिकानों पर एनआईए की छापेमारी हुई है वही सूत्रों की मानें तो 2 संदिग्धों से NIA की टीम पूछताछ कर रही है. वहीं बुलंदशहर, मेरठ और लखनऊ में NIA का छापा.

आपको बता दें कि इससे पहले देश के 13 राज्यों में पीएफआई के कई ठिकानों पर एनआईए नें छापेमारी की थी जहां से कई आपत्तिजनक वस्तुओं को एएनआई नें ज़ब्द किया था. वही 100 से अधिक लोगो को गिरफ्तार किया गया था.

पीएफआई पर भड़काऊ नारेबाजी, हत्या से लेकर हिंसा फैलाने तक के आरोप

पीएफआई पर भड़काऊ नारेबाजी, हत्या से लेकर हिंसा फैलाने तक के आरोप लग चुके हैं। इसी साल मई में संगठन की एक रैली में एक बच्चे से भड़काऊ नारे लगवाए गए थे. इस मामले ने काफी तुल पकड़ लिया था. इस मामले में केरल पुलिस ने 20 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया था. पीएफआई का विवादों से पुराना नाता रहा है. पीएफआई ने केरल के चेलारी में एकता मार्च निकाला था. इस रैली में आरएसएस की ड्रेस पहने युवकों को जंजीर से बंधा हुआ दिखाया था जिस पर काफी विवाद मचा था।संगठन पर केरल में कई हिंदूवादी संगठनों की नेताओं की हत्या में शामिल होने के आरोप लगते रहे हैं. इसके अलावा टेरर लिंक, दिल्ली-यूपी में सीएए-एनआरसी के खिलाफ हुए प्रदर्शन को फाइनेंस करने, हिजाब मुद्दे को सुलगाने और हाथरस कांड के दौरान हिंसा भड़काने का आरोप भी लगता रहा है.

Related Articles

Back to top button
Live TV