UP Election: नितिन गडकरी ने दी पश्चिमी यूपी को बड़ी सौगात, इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्ट सिस्टम का किया उद्घाटन, केशव मौर्य रहे मौजूद

मेरठ. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आज पश्चिमी यूपी को बड़ी सौगात दी है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, सांसद वीके सिंह और यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे और ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे के ITS ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का उद्घाटन किया।

मेरठ. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आज पश्चिमी यूपी को बड़ी सौगात दी है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, सांसद वीके सिंह और यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे और ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे के ITS ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का उद्घाटन किया।

135 किलोमीटर के ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे और दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे के Intergrated Transport सिस्टम ट्रैफिक मॉनिटरिंग के लिए किया गया है। जिसे स्पिन की कंपनी SICE और इंडिया की van के जॉइंट वेंचर में बनाई गई है। इस प्रोजेक्ट को जापान की JAIKa ने फण्ड किया है। इसीलिए इस कार्यक्रम में जापान के राजदूत सुजुकी संतोषी भी पहुँचे है।

Koo App
पश्चिमी उत्तर प्रदेश का प्रमुख व्यापारी केंद्र मेरठ के विकास को गति देते हुए आज प्रदेश में 8,364 करोड़ रुपए की कुल लागत वाली 139 किमी कुल लंबाई की 6 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य जी, केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वी. के. सिंह जी, सांसद श्री राजेंद्र अगरवाल जी तथा सांसदों, विधायकों और अधिकारियों की उपस्थिति में लोकार्पण और शिलान्यास किया। #PragatiKaHighway Nitin Gadkari (@nitin.gadkari) 23 Dec 2021

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंच से दिल्ली से लखनऊ की दूरी महेश 3 घंटे में तय करने के लिए कानपुर से लखनऊ तक के लिए एक्सप्रेस-वे बनाने की तैयारी की है जिसका और 10 दिनों के भीतर भूमि पूजन किए जाने की तैयारी है यह घोषणा उन्होंने गाजियाबाद में आयोजित कार्यक्रम के मंच से की है।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने बताया है कि 2017 से पहले प्रदेश में नेशनल हाईवे 6000 किलोमीटर थे, जबकि 2021 में यह नेशनल हाईवे और एक्सप्रेस वे की दूरी 12000 किलोमीटर से अधिक हो गई है।

टेलीजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम में क्या है खास

टेलीजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम में advance ट्रैफिक और टोल मैनेमेंट सिस्टम शामिल है। साथ ही एक्सप्रेस वे पर 24 घण्टे निगरानी रखा जा सकता है। इस सिस्टम के तहत 18 स्पीड डिटेक्शन कैमरे,143 ट्रैफिक मॉनिटरिंग कैमरा सिस्टम,28 वीडियो इंसिडेंट डिटेक्शन कैमरा, इसके जरिये किसी दुर्घटना के कारणों का पता लगाकर उसे कम करने की कोशिश की जाती है, ट्रैफिक जाम की रियल टाइम मॉनिटरिंग कर जाम खुलवाने और बिना रुके फॉस्टटैग के माध्यम से ट्रोल फी कलेक्शन की भी सुविधा हैं।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

six + 2 =

Back to top button
Live TV