थेवर जयंती पर सुब्रमण्यम स्वामी ने इस बात के लिए ठहराया नेहरू को जिम्मेदार

स्वामी ने थेवर जयंती के अवसर पर अपने एक ट्वीट में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को आड़े हाथ लेते हुए लिखा कि पसुम्पोन मुथुरामलिंग थेवर को नेहरू के चलते झूठे आरोप का सामना करना पड़ा था, क्योंकि उन्होंने नेताजी सुबास चंद्र बोस का समर्थन किया था।

पुरे तमिलनाडु में शनिवार को थेवर जयंती मनाई गई। तमिलनाडु के तमाम नेताओं से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक ने महान तमिल स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पसुम्पोन मुथुरामलिंगम थेवर (Pasumpon Muthuramalingam Thevar) के जन्म जयंती के इस अवसर पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया। इसी क्रम में भाजपा के राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने थेवर को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को कटघरे में खड़ा कर दिया।

उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा कि थेवर भारत की आजादी के एक महान क्रांतिकारी थे। ‘नेहरू’ के आग्रह पर उन्हें हत्या के झूठे आरोप का सामना करना पड़ा था, क्योंकि उन्होंने नेताजी सुबास चंद्र बोस का समर्थन किया था। बिना जमानत के जेल में बंद रहने के दौरान उनकी तबीयत खराब हो गई। किसी भी तमिल सांसद ने संसद में उनकी प्रतिमा लगाने की हिम्मत नहीं की। मैंने किया।

वहीं इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने एक आधिकारिक ट्वीट में लिखा, ”थेवर जयंती के विशेष अवसर पर, मैं महान पसुम्पोन मुथुरामलिंग थेवर के समृद्ध योगदान को याद करता हूं। वे बेहद बहादुर और दयालु थे। उन्होंने अपना जीवन लोक कल्याण और सामाजिक न्याय के लिए समर्पित कर दिया। उन्होंने किसानों और श्रमिकों के कल्याण के लिए कई प्रयास किए।”

Related Articles

Back to top button
Live TV