PM मोदी ने युवाओं को दिया भारत को आत्मनिर्भर बनाने का मंत्र, बोले- आत्मनिर्भर भारत के लिए युवा को बनना होगा अधीर

प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि देश की आजादी के अमृत महोत्सव की इस घड़ी में जब आप IIT की लेगेसी लेकर निकल रहे हैं तो उन सपनों को भी लेकर निकले कि 2047 में भारत कैसा होगा? प्रधानमंत्री ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए आगे कहा कि आने वाले 25 सालों में भारत की विकास यात्रा की बागडोर आपको ही संभालनी है।

लखनऊ. मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानपूर को मेट्रो की सौगात दी। इस दौरान जिले में प्रधानमंत्री के कई कार्यक्रम तय थे। प्रधानमंत्री मोदी इस दौरान भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) कानपुर के 54वें दीक्षांत समारोह में भी हिस्सा लिया। यहां उन्होंने उपाधि प्राप्त कर रहे युवा छात्र-छात्राओं को भी सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने युवाओं को वर्ष 2047 के भारत की तस्वीर गढ़ने की महती जिम्मेदारी सौंपी।

प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि देश की आजादी के अमृत महोत्सव की इस घड़ी में जब आप IIT की लेगेसी लेकर निकल रहे हैं तो उन सपनों को भी लेकर निकले कि 2047 में भारत कैसा होगा? उन्होंने कहा है कि आजादी के बाद पहले 25 सालों तक हमें देश को अपने पैरों पर खड़े होने के लिए प्रयास करने चाहिए थे, लेकिन तब से लेकर अब तक बहुत देर कर दी गई। इसीलिए अब हमें एक पल भी नहीं गंवाना है और कुछ कर गुजरना है।

प्रधानमंत्री ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए आगे कहा कि आने वाले 25 सालों में भारत की विकास यात्रा की बागडोर आपको ही संभालनी है। उन्होंने कहा कि साल 2047 तक भारत को पूर्णतः आत्मनिर्भर बनाने का काम देश की यह युवा शक्ति ही कर सकती है। प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “मेरी बातों में आपको अधीरता नजर आ रही होगी लेकिन मैं चाहता हूं कि आप भी इसी तरह आत्मनिर्भर भारत के लिए अधीर बनें। आत्मनिर्भर भारत, पूर्ण आजादी का मूल स्वरूप ही है, जहां हम किसी पर भी निर्भर नहीं रहेंगे।” प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान अपने विजन को पूरा करने की जिम्मेदारी युवाओं के कंधे पर रखी।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × two =

Back to top button
Live TV