भारतीय प्रेस दिवस : यहां जानिए भारतीय प्रेस परिषद के गठन का इतिहास, इन नेताओं ने दी हैं शुभकामनाएं

भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना का दिन यह वह दिन था जब इसने प्रेस के शक्तिशाली माध्यम से अपेक्षित उच्च मानकों को बनाए रखने के लिए कार्य करना शुरू किया। आज देश में भारतीय प्रेस दिवस मनाया जा रहा है, जिसपर तमाम राजनेताओं ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

भारतीय प्रेस परिषद (PCI) की स्थापना को चिन्हित करने और इसे गौरवान्वित बनाने के लिए प्रत्येक साल 16 नवंबर को राष्ट्रीय प्रेस दिवस मनाया जाता है। भारत में प्रेस परिषद के गठन का एक लम्बा इतिहास रहा है। इसके गठन का विचार सबसे पहले साल 1956 में किया गया था। इसके बाद भारत में 4 जुलाई 1966 को भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना की गयी थी जिसने 16 नवंबर 1966 को कार्य करना शुरू कर दिया।

आजादी के बाद भारत में प्रेस की स्वतंत्रता को बरकरार रखने और पत्रकारिता के हितों की समुचित रक्षा के उद्देश्य से भारतीय प्रेस परिषद का गठन किया गया जो आज तक अपने निर्धारित नैतिक मूल्यों पर कार्यरत है। साल 1956 में भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना की सिफारिश करते हुए, प्रथम प्रेस आयोग ने निष्कर्ष निकाला था कि पत्रकारिता में पेशेवर नैतिकता को बनाए रखने का सबसे अच्छा तरीका, वैधानिक अधिकार के साथ एक स्वतंत्र निकाय को अस्तित्व में लाना होगा।

इसके बाद प्रेस परिषद अधिनियम 1978 के तहत वर्ष 1966 में भारतीय प्रेस परिषद का गठन कर दिया गया। यह एक अर्ध-न्यायिक प्रवृत्ति कि संस्था है जिसके पहले अध्यक्ष सर्वोच्च न्यायालय के तत्कालीन न्यायाधीश न्यायमूर्ति जे आर मुधोलकर थे। भारतीय प्रेस परिषद के वर्तमान अध्यक्ष न्यायमूर्ति चंद्रमौली कुमार प्रसाद हैं जिन्होंने अपने बतौर दूसरे कार्यकाल न्यायमूर्ति मार्कंडेय काटजू (2011-2014) का स्थान लिया।

भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना दिवस के अवसर पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया साइट कू पर प्रेस और मीडिया जगत को शुभकामना दी है।

Koo App

सीएम योगी ने लिखा है,”लोकतंत्र का चतुर्थ स्तम्भ कहे जाने वाले ’प्रेस’ की निष्पक्षता, स्वतंत्रता और उच्च नैतिक मापदंडों के प्रति आग्रह को प्रकट करते ’राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ की सभी पत्रकार जन को हार्दिक शुभकामनाएं।आप लोकतंत्र के ’सजग प्रहरी’ हैं। राष्ट्र की उन्नति हेतु आप सभी के प्रयासों को कोटिशः नमन।”

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने सोशल मीडिया साइट कू पर बधाई सन्देश देते हुए लिखा है कि लोकतंत्र को सशक्त बनाने के लिए अहम भूमिका निभाने वाले सभी बहादुर एवं बेबाक मीडिया कर्मियों को ’राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

Koo App
लोकतंत्र को सशक्त बनाने के लिए अहम भूमिका निभाने वाले सभी बहादुर एवं बेबाक मीडिया कर्मियों को ’राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। कोरोना संक्रमण के वैश्विक संकट काल में आप सभी पत्रकार बंधुओं ने सूचनाओं के आदान-प्रदान तथा आमजनों के बीच जन जागरूकता का प्रसार किया है वह अत्यंत सराहनीय है। #NationalPressDay2021 Keshav Prasad Maurya (@kpmaurya1) 16 Nov 2021

उन्होंने लिखा,”लोकतंत्र को सशक्त बनाने के लिए अहम भूमिका निभाने वाले सभी बहादुर एवं बेबाक मीडिया कर्मियों को ’राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। कोरोना संक्रमण के वैश्विक संकट काल में आप सभी पत्रकार बंधुओं ने सूचनाओं के आदान-प्रदान तथा आमजनों के बीच जन जागरूकता का प्रसार किया है वह अत्यंत सराहनीय है।

Related Articles

Back to top button
Live TV