RLD और BJP अब एक साथ, लोकसभा चुनाव के लिए गेम फाइनल,पश्चिमी यूपी में सपा का क्या होगा ?

जयंत चौधरी ने अपने बयान में कहा कि हमने अपने सारे विधायकों से बात कर ली है.विधायकों और कार्यकर्ताओं से बात कर ही फैसला लिया गया है.एनडीए के साथ जाने का फैसला लिया है.हमारे सभी विधायक, कार्यकर्ता हमारे साथ है.

दिल्ली- किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न मिलने के बाद RLD के अध्यक्ष जयंत चौधरी की भाजपा से करीबी साफ जाहिर हो रही थी. और जो अब तक कयास लगाए जा रहे थे, वो अब ऐलान में बदल चुका है. RLD के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने NDA के साथ जाने का फैसला कर लिया है.इसी से लोकसभा चुनाव में यूपी में असली खेला होने के चांसेस बढ़ गए है.जयंत चौधरी की बीजेपी से दोस्ती होने पर पश्चिमी यूपी का माहौल एकदम से बदल गया है.

आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने अपने बयान में कहा कि हमने अपने सारे विधायकों से बात कर ली है.विधायकों और कार्यकर्ताओं से बात कर ही फैसला लिया गया है.एनडीए के साथ जाने का फैसला लिया है.हमारे सभी विधायक, कार्यकर्ता हमारे साथ है.

दूसरी तरफ लोकसभा चुनाव के इतने नजदीक होने के साथ ही अब डर इस बात का है कि जयंत के साथ छोड़ने के बाद से अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी को कितना ज्यादा घाटा हो सकता है.ऐसा न हो की पश्चिमी यूपी में साइकिल पंचर हो जाए, क्योंकि अगर ऐसा हुआ तो यूपी में सपा के साथ गठबंधन को बड़ा नुकसान हो सकता है.विपक्षी दल कहीं न कहीं फिर बीजेपी के सामने झुकती हुई नजर आएगी.

Related Articles

Back to top button
Live TV