UP: सपा नेता राम अचल राजभर बोले- अखिलेश यादव को मिल रहा है सर्व समाज का समर्थन, 22 चुनाव के बाद बनेंगे CM

चंदौली. विधानसभा चुनाव 2022 की घोषणा में कुछ दिन शेष रह गए हैं। इसको देखते हुए सभी राजनीतिक दल अपने अपने मतदाताओं को अपनी तरफ करने के लिए जी जान से जुट गए हैं इस क्रम में समाजवादी पार्टी और उनके गठबंधन के दलों द्वारा लगातार रैलियां और सभाएं की जा रही है इस क्रम में जिले के मुगलसराय विधानसभा के अमोघपुर गांव में समाजवादी पार्टी और जनवादी पार्टी सोशलिस्ट की संयुक्त रैली का आयोजन किया गया।

चंदौली. विधानसभा चुनाव 2022 की घोषणा में कुछ दिन शेष रह गए हैं। इसको देखते हुए सभी राजनीतिक दल अपने अपने मतदाताओं को अपनी तरफ करने के लिए जी जान से जुट गए हैं इस क्रम में समाजवादी पार्टी और उनके गठबंधन के दलों द्वारा लगातार रैलियां और सभाएं की जा रही है इस क्रम में जिले के मुगलसराय विधानसभा के अमोघपुर गांव में समाजवादी पार्टी और जनवादी पार्टी सोशलिस्ट की संयुक्त रैली का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री व वरिष्ठ सपा नेता राम अचल राजभर और जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय चौहान ने शिरकत किया। इस दौरान दोनों नेताओं ने भाजपा की केंद्र के मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। इस दौरान जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय चौहान ने योगी सरकार पर जातिवाद का आरोप लगाया और कानपुर में हुए बलात्कार में आरोपी को संरक्षण देने का आरोप लगाया। वही सपा नेता राम अचल राजभर ने कहा अखिलेश यादव को सर्व समाज का समर्थन मिल रहा है ।

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए राम अचल राजभर ने कहा आज जो है भाजपा भगाओ और प्रदेश बचाओ जनवादी जनक्रांति सम्मेलन था जिस के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय संजय चौहान जी हैं आज जो है कार्यक्रम के माध्यम से सर्व समाज को संबोधित करते हुए आने वाले 2022 में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जो गठबंधन किया है गठबंधन की सरकार बने माननीय अखिलेश यादव सूबे के सीएम बने।

राम अचल राजभर से पूछा गया कि 1 दिन पूर्व ही यूपी कैबिनेट मंत्री मोती सिंह ने सभा पर बड़ा हमला बोला था इस पर जवाब देते हुए राम अचल राजभर ने कहा वो स्वयं कह रहे हैं जनता थोड़ी कह रही है जनता तो आपके सामने है जो जन यात्रा माननीय अखिलेश यादव जी निकाले हैं चाहे पश्चिम हो बुंदेलखंड हो पूर्वांचल है उस विजय यात्रा के माध्यम से समर्थन मिल रहा है सर्व समाज का समर्थन यह बता दिया है कि भारतीय जनता पार्टी के कुशासन से त्रस्त होके युवा साथी और हमारा नौजवान भाई बहन बड़े पैमाने पर माननीय अखिलेश जी को अपना महबूब नेता मानकर दूसरी बार सीएम बनाने के लिए रातों दिन उसी कड़ी में लगा इसको देखिए इतनी बड़ी ठंड में जितने बड़े पैमाने पर जनसमर्थन मिला इस कार्यक्रम माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष के माध्यम से डॉक्टर संजय चौहान यह तो बिल्कुल उदाहरण है ना आने वाले दिन जो है समाजवादी पार्टी का है ।

बसपा से निकाले गए विधायकों के सवाल पर राम अचल राजभर ने कहा देखिए वह तो क्लियर है वह तो आप ही लोग दिखाए हैं पूर्वांचल में आठ फीसदी वोट और पश्चिम में 15 फिसदी बसपा में कहीं कहीं दूर दूर तक दिखाई नहीं दे रहा है। मुझे जहां तक उम्मीद है पिछले 2017 में जितने विधायक चुने गए थे उससे भी कम आएंगे। यह तो वह कह रहे हैं ना जो पार्टी से निकाले गए हैं जिस विचारधारा से जैसे मैं हूं 38 साल जिस विचारधारा से मैं जुड़ा था उसी विचारधारा से मिलते जुलते समाजवादी पार्टी का अपने समाज का वोटर सपोर्टर के माध्यम से पूरे प्रदेश में घूम कर 7 नवंबर के पहले उनसे राय लिया और 7 नवंबर भानमती स्मारक पीजी कॉलेज कॉलेज के राम अचल राजभर संघर्ष मोर्चा की रैली की गई जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शामिल हुए।

वहीं जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय चौहान ने सीएम योगी पर बड़ा हमला बोलते हुए आरोप लगाया। योगी जी का अपना समाज नहीं होता सबका विकास या सबका साथ वाली भाजपा सरकार उत्तर प्रदेश में ठाकुरो के रूप में सरकार नहीं जानी जाती और योगी जी के अपना समाज नहीं होता तो मुख्तार अंसारी व अतीक अहमद के घर बुलडोजर चल रहा है तो बृजेश सिंह व सुशील सिंह विनीत सिंह के घर पर भी बुलडोजर चलता तो योगी जी का भी अपना समाज है। वैसे तो बलात्कारियों किसी समाज के नहीं होते एक विक्षिप्त नेचर के लोग होते हैं जब उन्हें बचाने जाति के आधार पर काम किया जाता है उसमें से एक व्यक्ति फरार है 6 साल बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ 5 रोज पहले पकड़ा नहीं जा रहा है पुलिस उसका सहयोग कर रही है अगर योगी जी के बिरादरी का नहीं होता तो गिरफ्तार क्यों नहीं हुआ है मैं गया था 2 दिन पहले मैं बोल कर के एसपी को खुद बोल कर के आया हूं अगर अपराधी 1 हफ्ते के अंदर नहीं पकड़ा जाएगा कानपुर के सड़कों पर इंकलाब होगा।

Related Articles

Back to top button
Live TV