सौर मंडल से बाहर अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने खोजा यह नया ग्रह, हो सकती है जीवन की संभावना?

अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने हमारे सौर मंडल के बाहर सबसे छोटे ग्रह कि खोज की है। जानकारी के मुताबिक हमारे सौर मंडल के बाहर अब तक जितने ग्रह खोजे गए उन सब की तुलना में सबसे छोटे ग्रह को देखा है। वैज्ञानिकों ने इस ग्रह के बारे में जानकारी दी है कि यह एक चिलचिलाती-गर्म दुनिया है जो मंगल से थोड़ी बड़ी है। शुद्ध लोहे की तरह घना आसमानी पिंड है जो और हर आठ घंटे में अपने घरेलू तारे के चारों और एक चक्कर पूरा करता है।

शोधकर्ताओं ने गुरुवार को कहा कि वे एक ऐसे ग्रह का पता लगाने में कामयाब रहे हैं, जो पृथ्वी से अपेक्षाकृत करीब 31 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। उन्होंने जानकारी दी कि इसके कुछ महत्वपूर्ण लक्षण हाल के वर्षों में हमारे सौर मंडल से परे छोटे आकार के ग्रहों को चिह्नित करने की क्षमता में सुधार को दर्शाते है।

वैज्ञानिक भाषा में इस तरह के ग्रह को ‘एक्सोप्लैनेट’ (Exo-Planet) कहा जाता है और अंतरिक्ष वैज्ञानिक इसे विदेशी दुनिया के रूप में मानते हैं। वैज्ञानिकों का ऐसा मानना है कि इन ग्रहों पर जीवन की संभावना हो सकती है। फिलहाल नई खोज वाले इस ग्रह को GJ 367B नाम दिया गया है।गृह के लक्षणों के अध्ययन से वैज्ञानिकों ने यह निष्कर्ष निकला है कि सम्भवतः दूसरे Exo-Planets की तरह इसके सतह का तापमान बहुत अधिक ना हो जबकि इस बात की अधिक संभावना है कि इसके घरेलु तारे के चारो ओर पिघले हुए लावा की सतह हो।

इस नए बाह्य ग्रह के अलावा वैज्ञानिकों ने पहले भी कई ऐसे Exo-Planets खोजे हैं जहां के वातावरणीय परिस्थितियों के अध्ययन से पाया गया है कि इन ग्रहों पर जीवन की संभावना हो सकती है।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + fifteen =

Back to top button
Live TV