Ayodhya Deepotsav : सीएम योगी- एक समय था जब ‘जय श्रीराम’ बोलना अपराध था, रामभक्तों पर गोलियां चलती थी…

रामनगरी अयोध्या आज दीपोत्सव कार्यक्रम के लिए दुल्हन की तरह सजाई गई है। दिवाली के इस अवसर में अयोध्या में आज कुल 12 लाख दीपक जलाए जाएंगे। दीपोत्सव कार्यक्रम तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे। यहां उन्होंने भगवान राम और माता सीता का किरदार निभा रहे कलाकारों का सांकेतिक राजतिलक किया। साथ ही उन्होंने अयोध्या में 661 करोड़ रुपये की 50 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसी के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न पुस्तकों का विमोचन किया। इस अवसर पर केन्द्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी, यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह मौजूद रहे।

सीएम योगी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बोले, पांच वर्ष पहले अयोध्या में दीपोत्सव की चर्चा सामने आई थी, तो अयोध्या में ही आज के दिन ये आयोजन नहीं हो रहा था। हमारी सरकार ने तय किया कि अगर अयोध्या को उसकी नई पहचान दीपोत्सव कार्यक्रम से माध्यम से दिलवानी है। मुझे याद है कि 2017, 2018, 2019 में भी एक ही नारा गूंज रहा था- ‘योगी जी एक काम करो, मंदिर का निर्माण करो।’ मैं तब भी कह रहा था कि मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला तैयार की जा रही है।

सीएम बोले, 31 साल पहले अयोध्या में क्या हो रहा था। 30 अक्टूबर और 2 नवंबर 1990 को रामभक्तों पर बर्बर तरीके से गोलियां चलाई गईं थीं। बर्बर लाठीचार्ज हो रहा था। तब ‘जय श्रीराम’ बोलना अपराध माना जा रहा था। जो लोग 31 साल पहले रामभक्तों पर गोलियां चला रहे थे, वो आपकी ताकत के आगे झुके हैं। अब लगता है कि अगर कुछ और वर्ष आप इसी तरीके से ले चले, तो अगली कारसेवा के लिए वो और उनका पूरा खानदान लाइन में लगा होगा।

आगे कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम बोले, अयोध्या में जब भव्य श्रीराम मंदिर बनेगा, उसके साथ ही अयोध्या देश व दुनिया की सबसे अच्छी धार्मिक और आध्यात्मिक नगरी होगी। पहले लोग बोलते थे, परिंदा भी पर नहीं मार सकता था। 31 साल पहले हुआ था, वह मंजर कोई रामभक्त और कोई अयोध्यावासी उसे कभी भूल नहीं सकता है। इसी के साथ ही सीएम योगी ने विपक्ष पर भी हमला बोला। सीएम योगी ने कहा, जिन्हें कब्रिस्तान प्यारा था, वो जनता का पैसा वहां लगाते थे। जिन्हें धर्म और संस्कृति प्यारी है, वो पैसा उनके उत्थान के लिए लगा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, आप देखना कि अगर अगली कारसेवा होगी, तो गोली नहीं चलेगी। रामभक्तों व कृष्णभक्तों पर पुष्पों की वर्षा होगी। पिछली सरकारों में ये पैसा कब्रिस्तान की दीवार बनाने में खर्च होता था, आज मंदिरों के पुनर्निर्माण और सुंदरीकरण पर खर्च हो रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + 17 =

Back to top button
Live TV