कू ऐप का शुरू होना हम सभी के लिए गर्व की बात – पीयूष गोयल

नई दिल्ली: इंडियन माइक्रोब्लॉगिंग कू ऐप अब लोगों को और प्रभावित करने लगा है. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार को कहा कि कू ऐप ने जिस मजबूती से सोशल मीडिया के क्षेत्र में कदम रखा है वह गर्व की बात है. दिल्ली में आयोजित राइज- स्टार्टअप टू यूनिकॉर्न कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने देश में सफल हो रहे नए स्टार्टअप्स को सराहा. एक निजी हिंदी टीवी चैनल द्वारा आयोजित इस समारोह में केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहे. साथ ही केंद्रीय राज्य मंत्री नरेंद्र तोमर और अर्जुन मेघवाल भी शामिल हुए. बताते चलें, कू ऐप आम लोगों के बीच लगातार पॉपुलर होता जा रहा है. अब ज्यादातर यूजर्स अपने विचार रखने के लिए देश में ही तैयार कू ऐप का खूब इस्तेमाल कर रहे हैं. लोगों का मानना है कि अमेरिकी कंपनी ट्विटर की बजाए कू ऐप अपनी भाषा में बेझिझक अपनी बातें रखने का शानदार प्लेटफॉर्म देता है।

नई दिल्ली: इंडियन माइक्रोब्लॉगिंग कू ऐप अब लोगों को और प्रभावित करने लगा है. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार को कहा कि कू ऐप ने जिस मजबूती से सोशल मीडिया के क्षेत्र में कदम रखा है वह गर्व की बात है. दिल्ली में आयोजित राइज- स्टार्टअप टू यूनिकॉर्न कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने देश में सफल हो रहे नए स्टार्टअप्स को सराहा. एक निजी हिंदी टीवी चैनल द्वारा आयोजित इस समारोह में केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहे. साथ ही केंद्रीय राज्य मंत्री नरेंद्र तोमर और अर्जुन मेघवाल भी शामिल हुए. बताते चलें, कू ऐप आम लोगों के बीच लगातार पॉपुलर होता जा रहा है. अब ज्यादातर यूजर्स अपने विचार रखने के लिए देश में ही तैयार कू ऐप का खूब इस्तेमाल कर रहे हैं. लोगों का मानना है कि अमेरिकी कंपनी ट्विटर की बजाए कू ऐप अपनी भाषा में बेझिझक अपनी बातें रखने का शानदार प्लेटफॉर्म देता है।

राजधानी दिल्ली में एक समारोह में लोगों को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि ‘हिम्मत कर के अमेरिकी कंपनी twitter के सामने खड़े होना और कू ऐप शुरू करना हम सबके लिए बहुत गर्व की बात है.’ इतने कम समय में एक अमेरिकी कंपनी को टक्कर देने और लगातार पॉपुलर हो रहे कू ऐप की तारीफ करते हुए पीयूष गोयल ने आगे कहा ‘स्टार्टअप के इतिहास में गंभीरता से बात की जाए तो ये सराहनीय कदम है.’ उन्होने ने आगे कहा, ‘कू को देखकर बहुत प्रसन्नता होती है, बहुत गर्व होता है।’

ज़ी हिंदुस्तान द्वारा आयोजित इस में कार्यक्रम में केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कू ऐप के सीईओ व सह-संस्थापक अप्रमेय राधाकृष्ण को सम्मानित भी किया।

भारत के तमाम चर्चित लोग कर रहे कू का रुख

जानकारों का कहना है कि भले अब तक भारत में सिर्फ अमेरिकी सोशल मीडिया कंपनियों का ही बोलबाला रहा है. लेकिन कू ऐप के आने के बाद तस्वीर पूरी तरह से बदलने लगी है. कू ऐप पर तमाम चर्चित लोग अपना अकाउंट बनाने लगे हैं. मसलन, भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली, पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन, विरेंद्र सहवाग और कई बड़े क्रिकेटर्स अब कू ऐप के जरिए लोगों से अपनी भाषा में जुड़ रहे हैं. इसी तरह अभिनेता टाइगर श्रॉफ, कृति सेनन और श्रद्धा कपूर इस इंडियन ऐप के जरिए लोगों से बात करते हैं. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत देश के 18७ मुख्यमंत्री कू ऐप का इस्तेमाल करते हैं।

भारत के अलावा अब अन्य देशों में भी शुरू होगा कू ऐप का ऑपरेशन

बता दें, कू ऐप एक इंडियन माइक्रोब्लॉगिंग ऐप है जो यूजर्स को अपनी मातृभाषा में लोगों से जुड़ने और विचार रखने का प्लेटफॉर्म मुहैया कराता है. भारत के अलावा कू ऐप अब नाईजीरिया में भी उपलब्ध है. कंपनी अगले साल कई दक्षिण-एशियाई देशों में भी अपना ऑपरेशन शुरू करने की तैयारी कर रही है।

Related Articles

Back to top button
Live TV