यूपी : जाने कैसे पांच साल के मासूम ने खोला अपनी माँ की मौत का राज ?

सोनभद्र के अनपरा थाना क्षेत्र के सिदहवा पहाड़ी पर मिला महिला का नर कंकाल मिलने से सनसनी फैल गयी। मृतिका की पहचान सोगिया पत्नी बबलू के रूप में हुई। महिला लगभग एक महीने से गायब थी और महिला के मायके वालों के द्वारा लगातार खोजबीन के लिए थाने का चक्कर लगाया जा रहा था पर स्थानीय पुलिस ने इस मामले पर कोई ठोस कार्यवाही नही की जा रही थी। आज महिला का शव मृतिका के परिजनों के द्वारा खुद खोजा गया जिसके बाद परिजन व स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित हो गए और वाराणसी-शक्तिनगर मुख्य मार्ग को जाम कर दिया। वही पुलिस ने आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर जाम खुलवाया और नर कंकाल को कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही में जुट गई।

जानकारी के अनुसार अनपरा थाना क्षेत्र के सिदहवा पहाड़ी पर आज दुर्गंध आने के बाद जब स्थानीय लोगों ने वहाँ खोदना शुरू किया तो नर कंकाल देख कर सभी सन्न रह गए। वही स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी। लगभग एक महीने पहले सोगिया उम्र 27 वर्ष पति बबलू दोनो पति पत्नी का आपस मे किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था तभी से महिला गायब थी। महिला के मायके वालों ने थाने में तहरीर देकर गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवायी थी। पुलिस ने तहरीर लेकर गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। परिजनों के द्वारा लगातार पुलिस से खोजबीन की मांग करते रहे पर पुलिस ने कोई सुनवाई नही की मृतिका के परिजन थाने के चक्कर लगाते रहे इस बीच मृतिका के बच्चे द्वारा लगातार पुलिस को अपने माता ,पिता के बीच हुए झगड़े के विषय मे बताते रहे पर पुलिस ने ध्यान नही दिया।

आज मृतिका के परिजनों के द्वारा बच्चों के द्वारा बताए स्थान पर पहुँचकर जब खोजबीन शुरू की गई तब दुर्गध आने के बाद सोगिया पहाड़ी पर खोदना शुरू किया गया तब महिला का नर कंकाल गढ्ढे में दबा हुए मिला जिसके बाद स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित हो गए और पुलिस से स्थानीय ग्रामीण झड़प करते हुए वाराणसी – शक्तिनगर जाम कर दिया वही कड़ी मशक्क्त के बाद पुलिस ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर जाम खुलवाया और नर कंकाल को कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही में जुट गई।

वही मृतिका के पांच साल के मासूम बच्चे ने बताया कि मेरी मम्मी ,पापा में मार पीट हुआ था जिसके बाद पापा ने मम्मी को मारा था मम्मी बेहोश हो गयी थी उसके बाद पापा मम्मी को लेकर पहाड़ी पर आए और दबा दिए पुलिस वाले अंकल आये थे पर कोई मेरी बात नही सुना। वही मृतिका की माँ जगरतिया ने बताया कि मेरी बेटी 03 तारीख से गायब थी हम लोग लगातार थाने के चक्कर लगा रहे थे पर कोई सुनवाई नही हो रही थी आज जब खुद से हम लोग खोज शुरू किए तो मेरी बेटी का शव यहाँ पहाड़ी पर गड़ा हुआ मिला मेरी बेटी का पति हमेसा उसे मारता पीटता रहता था उसी ने मेरी बेटी की हत्या कर शव दफना दिया और आज जब राज खुला तो मौके से फरार हो गया।

इस पूरे मामले में एडिशनल एसपी विनोद कुमार का कहना है कि मृतिका की माँ की तरफ से तहरीर मिला है। जिसमे उन्होंने आरोप लगाया है कि मृतिका के पति और उसके परिजनों के द्वारा ही मारकर ज़मीन में दफन कर दिया था, मिली तहरीर के अनुसार एफआईआर पंजीकृत कर पति को हिरासत में लेकर पूछताछ की जाऐगी । बॉडी का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जो भी होगा जल्द ही खुलासा कर दिया जाएगा।

बड़ा सवाल यह है कि जब मृतिका के बच्चों द्वारा बार-बार बताया जा रहा था कि मृतिका और उसके पति के बीच मारपीट हुआ था तो पुलिस इसे गंभीरता से पहले क्यों नहीं ली। एक महीने बाद उन्ही बच्चों की निशानदेही पर नर कंकाल मिला। आखिर प्रशासन इतने संवेदनशील मामले में लापरवाही क्यों की। जबकि पुलिस को इस मामले में हर उस पहलू पर ध्यान देना चाहिए था जो मौत की गुथी को जल्द-से-जल्द सुलझा सकता था।

Related Articles

Back to top button
Live TV