UPTET परीक्षा रद्द होने पर सपाईयों का धरना प्रदर्शन, की आर्थिक सहायता और दोषियों पर सख्त कार्यवाही की मांग

बागपत. यूपी टीईटी परीक्षा के रद्द होने पर समाजवादी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पेपर देने आए प्रत्येक बेरोजगार युवा को पांच हजार की आर्थिक सहायता और अधिकारियों के भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग करते हुए राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा।

बागपत. यूपी टीईटी परीक्षा के रद्द होने पर समाजवादी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पेपर देने आए प्रत्येक बेरोजगार युवा को पांच हजार की आर्थिक सहायता और अधिकारियों के भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग करते हुए राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा।

28 नवंबर को पेपर लीक होने के बाद रद्द हुई यूपी टीईटी परीक्षा पर समाजवादी के सैकड़ों कार्यकर्ता ने कलेक्ट्रेट पहुचे, जहां उन्होंने प्रदर्शन करते हुए पेपर देने आए प्रत्येक बेरोजगार युवा को पांच हजार की आर्थिक सहायता की मांग की हैं, और पेपर लीक प्रकरण में लिप्त अधिकारियों के भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की हैं।

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन करते हुए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौपा, धरना पर्दशन कर रहे कार्यकर्ताओं का कहना हैं कि यूपी टीईटी परीक्षा कुछ लोगों के कारण भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गयी। 21 लाख युवाओं को आर्थिक और मानसिक परेशानी उठानी पडी, उनके भविष्य से खिलवाड़ किया गया। ऐसे में सरकार बिना किसी देरी के दोषियों पर सख्त कार्यवाही करे।

धरना प्रदर्शन कर रहे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मांग की है कि 15 दिन के भीतर दुबारा परीक्षा होनी चाहिए, परीक्षा में सम्मिलित होने वालों के लिए सरकारी बसों व रेल में मुफ्त यात्रा की सुविधा दी जाए साथ ही 28 नवंबर की परीक्षा के लिए युवाओं को दरदर भटकना पडा, मानसिक और आर्थिक नुकसान हुआ, ऐसे में सरकार समस्त परीक्षार्थियों को कम से कम पांच हजार रुपए की आर्थिक सहायता दे।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV