Uttarkashi Tunnel Collapse: अंतिम चरण में बचाव कार्य, मौके पर पहुंचे धामी, अब बस इतने घंटे का इंतजार…

Uttarkashi Tunnel Collapse: अंतिम चरण में बचाव, एम्बुलेंस और अस्पताल तैयार, एक्सपर्ट्स मजदूरों को बचाने का कर रहें काम

उत्तराखंड के सिल्कयारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए बचाव अभियान जारी है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सिल्कयारा सुरंग स्थल पर पहुंचे। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा ऑगर मशीन के जरिए 45 मीटर पाइपलाइन बिछाई जा चुकी है। बचाव अपने अंतिम चरण में है। कुछ बाधाएं आ रही हैं लेकिन हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि जल्द से जल्द सभी श्रमिक बाहर आएं।

सीएम धामी ने बताया कि बचाव के बाद की तैयारियां कर ली गई हैं। एम्बुलेंस और अस्पताल उनके चेकअप और इलाज के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री मोदी हर दिन बचाव अभियान पर अपडेट ले रहे हैं। उन्होंने आज भी अपडेट लिया है। हमारे एक्सपर्ट्स मजदूरों को बचाने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं।

उत्तरकाशी सुरंग बचाव पर PMO के पूर्व सलाहकार भास्कर खुल्बे ने कहा, “हमें उम्मीद है कि जो बाधाएं आनी थीं उसे हम पार कर चुके हैं। अगले 14-15 घंटों में हम 60 मीटर तक पार कर लेंगे, ड्रिलिंग का काम जारी है। 12 से 14 घंटे हमें वहां पहुंचने में लगेंगे। उसके बाद वहां श्रमिकों को एकत्र करके NDRF की सहायता से बाहर निकालने में 2-3 घंटे का समय लग सकता है।

IG गढ़वाल रेंज के.एस. नागन्याल ने बताया, “हमने एम्बुलेंस की सभी व्यवस्थाएं कर ली हैं। हम फंसे हुए श्रमिकों को ग्रीन कॉरिडोर के माध्यम से घटना स्थल से अस्पताल तक ले जाएंगे। डॉक्टर की सलाह पर, यदि फंसे हुए लोग गंभीर स्थिति में हुए तो हम उन्हें एयरलिफ्ट भी कर सकते हैं। यदि उन्हें बेहतर चिकित्सा सहायता की आवश्यकता महसूस होती है, तो उन्हें ऋषिकेश एम्स ले जाया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
Live TV