Viral : एफआईआर न लिखने का कारण पूछने पर भड़के दरोगा, बोले- भाग यहाँ से मारब जूता से…

जौनपुर : दरोगा के गाली देने का एक वीडियो वायरल हो रहा है बताया जा रहा है कि महिला एफआईआर लिखाने के लिए करीब 6 घंटे से थाने में बैठी थी। इतने में उसका बेटा वहां पहुंच गया। उसने दरोगा मनोज सिंह से एफआईआर न लिखने का कारण पूछा तो वह भड़क गए। उन्होंने लड़के से कहा- भाग यहां से…मारब जूता से…

जब पीड़ित ने कहा कि वह इसकी शिकायत पीएमओ और डीएम से करेगा तो दरोगा कह रहे हैं, जा न, तुझको कोई पकड़े है। मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उधर, एसओ का कहना है कि उन्हें वीडियो की बारे में कोई जानकारी नहीं है।

जमीन के रुपए न देने की तहरीर देने गए थे :
बक्शा थाना क्षेत्र के बबुरा गांव में 4 दिसम्बर की रात राजेन्द्र प्रसाद यादव (45) का फांसी पर लटका हुआ शव मिला था। थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह ने जांच पड़ताल के बाद शव मोर्चरी में रखवा दिया। रविवार को पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक के बेटे आशीष यादव के मुताबिक, राजेंद्र ने गांव के ही एक व्यक्ति को जमीन बेची थी।

जमीन बेचने के बाद उन्हें पैसे नहीं मिले थे। इसी कारण से तनावग्रस्त होकर उन्होंने फांसी लगाकर जान दे दी। आशीष ने बताया कि 13 दिसंबर को पुलिस को तहरीर दी थी। 18 दिसंबर को पुलिस ने उनके घर आकर फिर से प्रार्थना पत्र लिया। साथ ही अगले दिन थाने में बुलाया। आरोप है कि 19 को जब उसकी मां थाने गई तो घंटों तक एफआईआर नहीं लिखी। उनसे कहा कि जब बड़े साहब आएंगे तो उनसे अपनी बात कह देना। काफी देर इंतजार करने के बाद जब आशीष ने उप निरीक्षक मनोज सिंह से पूछा तो गाली-गलौच शुरू कर दी। साथ ही अभद्रता कर थाने से भगा दिया।

आपको बता दे कि भारत समाचार पर खबर चलने के बाद जौनपुर के एसपी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दरोगा मनोज सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है और एसपी ग्रामीण मामले की जांच करने का आदेश दिया है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV