बिल्डर की लापरवाही से 12 फीट नीचे बेसमेंट में गिरी महिला गंभीर घायल..

ग्रेटर नोएडा : वेस्ट हाई राइज सोसायटी सुपरटेक इकोविलेज वन सोसाइटी में बिल्डर की लापरवाही का खामियाजा सोसायटी में रहने वाले रेजिडेंट महिला को भुगतना पड़ा है। पीड़ित महिला के बच्चे प्ले ग्राउंड में खेल रहे थे। उसी दौरान बच्चों की बॉल मेट पर जा पहुंची। महिला जैसे ही बोल लेने मेट पर पहुंची तो मेट के नीचे गहरे बेसमैंट जा गिरी। महिला प्ले ग्राउंड के पास बने 12 फीट नीचे गड्ढे में महिला जा गिरी। जिसमें उन्हें गंभीर चोटें आये हैं। पीड़ित महिला को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिनकी रीड की हड्डी और हाथ फैक्चर हुआ है। हाल ही में उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। घर पर ही उनका इलाज चल रहा है।

पीड़ित परिवार ने बिल्डर से भी शिकायत की लेकिन कोई अभी तक कार्यवाही नहीं हुई। वही पीड़ित परिवार ने इस मामले में परेशान होकर पुलिस से भी शिकायत की है। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है। महिला का परिवार आर्थिक और मानसिक रूप से काफी परेशान हैं। जब इस मामले में हम लोगों ने बिल्डर से बात करनी चाही तो वह कैमरे के सामने बचते हुए नजर आए।

ग्रेनो वेस्ट सुपरटेक इकोविलेज वन सोसाइटी में आए दिन रेजिडेंट बिल्डर के खिलाफ प्रोटेस्ट करते हैं। लेकिन बिल्डर के कान पर जूं नहीं रेंग ती है। आए दिन ग्रेनो वेस्ट की सोसाइटी में कोई ना कोई हादसे बिल्डर की लापरवाही से होते रहते हैं। सुपरटेक इकोविलेज वन सोसाइटी में बिल्डर की लापरवाही का मामला सामने आया है। बता दें कि महिला प्रीति शुक्ला अपने दो बच्चों के साथ सोसाइटी में बने प्ले ग्राउंड में खेल रहे थे। उसी दौरान बच्चों की बॉल बेसमेंट के ऊपर जा गिरी महिला जैसे ही बोल लेने के लिए पहुंची महिला उस 12 फीट नीचे गहरे बेसमेंट में जा गिरी। गिरते ही चीख-पुकार सुनकर आस-पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे। घायल महिला को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया उन्हें गंभीर चोटें आई है।

महिला की रीढ़ की हड्डी और हाथ फैक्चर हुआ है। जिन्हें अभी अस्पताल से हाल ही में छुट्टी मिल गई है। और उनका घर पर ही इलाज चल रहा है। पीड़ित महिला के परिजनों ने इस मामले में बिल्डर से लापरवाही की शिकायत की तो अभी तक कोई भी बिल्डर की तरफ से एक्शन नहीं लिया गया है। वही पीड़ित परिवार ने इस मामले में पुलिस से शिकायत की है। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। वही सोसायटी में रहने वाले लोगों का कहना है कि बिल्डर की लापरवाही आम होती जा रही है। प्ले ग्राउंड के पास जो बेसमेंट के ऊपर कई जगह खाली जगह छोड़ी गई है। कहीं पर ग्रिल लगाई गई हैं। तो कहीं पर उसे छोड़ दिया गया है। जिससे यह हादसा हुआ है। आगे भी इस तरह के इससे हादसे हो सकते हैं। हालांकि घटना के बाद से महिला जहां बेसमेंट में गिरी थी। उस पर बिल्डर की तरफ से ग्रिल लगा दी गई है। बड़ा हादसा होने से टल गया इस हादसे में पीड़ित महिला प्रीति शुक्ला की जान भी जा सकती थी। बड़ा सवाल ये उठता है कि हादसों के बाद ही आखिर क्यों जागता है बिल्डर पहले इस तरह की लापरवाही पर ध्यान क्यों नहीं देता।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seven − three =

Back to top button
Live TV