दुनिया : NASA लांच करेगा बड़ी अंतरिक्ष दूरबीन, ब्रह्मांड की उत्पत्ति से सम्बंधित अनसुलझे रहस्यों का खुलेगा राज!

'जेम्स वेब स्पेस' नामक टेलीस्कोप का आकार एक टेनिस कोर्ट जितना है जबकि वजन 14,000 पाउंड है। यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के लॉन्च बेस फ्रेंच गुयाना से शनिवार को सुबह 7:20 (1220 GMT) इस जेम्स वेब स्पेस' नामक स्पेस टेलीस्कोप जायेगा।

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) ‘जेम्स वेब स्पेस’ नामक टेलीस्कोप को शनिवार को दक्षिण अमेरिका के उत्तरपूर्वी तट से लॉन्च करेगा। NASA द्वारा निर्मित टेलीस्कोप का उद्देश्य शिशु ब्रह्मांड (Infant Universe) के डिजाइन का अध्ययन करना है। खगोल विज्ञान में ऐसे माना जाता है कि शिशु ब्रह्मांड तब अस्तित्व में था जब सबसे पुरानी आकाशगंगाओं का निर्माण हुआ था। इसी तथ्य की लिहाज से उसके अनसुलझे रहस्यों की गुत्थी से पर्दा उठाने के लिए NASA ‘जेम्स वेब स्पेस’ टेलिस्कोप को लांच कर रहा है।

नासा द्वारा 9 बिलियन डॉलर की लागत से बनाई गई यह इन्फ्रारेड टेलीस्कोप अगले दशक के प्रीमियर अंतरिक्ष-विज्ञान वेधशाला के रूप में प्रयोग में लाया जाएगा। इस इन्फ्रारेड टेलीस्कोप को लांच करने से पहले यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के लॉन्च बेस फ्रेंच गुयाना में 5 रॉकेट के कार्गो बे (Cargo Bay) के अंदर रखा गया था। यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के लॉन्च बेस फ्रेंच गुयाना से शनिवार को सुबह 7:20 (1220 GMT) इस जेम्स वेब स्पेस’ नामक स्पेस टेलीस्कोप जायेगा।

बता दें कि ‘जेम्स वेब स्पेस’ नामक टेलीस्कोप का आकार एक टेनिस कोर्ट जितना है जबकि वजन 14,000 पाउंड है। यदि सब कुछ योजना के अनुसार होता है, तो अंतरिक्ष में 26 मिनट की सवारी के बाद फ्रांस-निर्मित रॉकेट से छोड़ा जाएगा। यह वेब टेलीस्कोप अगले महीने तक चंद्रमा से लगभग चार गुना दूर और पृथ्वी से लगभग 1 मिलियन मील दूर सौर कक्षा में अपने गंतव्य तक पहुंच जाएगा। इसके बाद यह कक्षीय रास्ते से पृथ्वी के साथ लगातार दूरबीन को सीधी रेखा में रखते हुए सूर्य का चक्कर लगाएगा।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV