अखिलेश ने किया मतदान, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- लोगों को नहीं डालने दिया जा रहा वोट…

उन्होंने कहा कि कल प्रत्याशी को खुद धरने पर बैठना पड़ा कि ये पुलिस निष्पक्ष चुनाव नहीं करा सकती है. उन्होंने कहा कि रामपुर में फौज तक की मांग करनी पड़ गई. रामपुर में पहले तो लोगों को वोट नहीं डालने दिया जा रहा. कहीं भी किसी को निकलने नहीं दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसे वीडियो आ रहे हैं जिसमें पुलिस चेकिंग करती नजर आ रही है.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव में सैफई के अभिनव विद्यालय में वोट डाला. इस दौरान अखिलेश के साथ उनकी पत्नी और मैनपुरी से सपा की लोकसभा प्रत्याशी डिंपल यादव भी मौजूद रहीं. डिंपल ने भी अभिनव विद्यालय में अपना वोट डाला. मतदान करने के बाद अखिलेश ने प्रेस कांफ्रेंस की और रामपुर व मैनपुरी में उपचुनाव की परिस्थितियों को लेकर प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए.

अखिलेश ने कहा कि अभी सुबह से लगातार शिकायतें आ रही हैं कि रामपुर में प्रशासन लगा हुआ है. उन्होंने पुलिस पर बहुत गंभीर आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि पुलिस को ब्रीफिंग दी गई है. पुलिस को बताया गया है कि समाजवादी पार्टी को वोट ना पड़ने दिया जाए. वोट ना पड़ने दिए जाने के हर तरीके के उपाय आजमाए जाए हैं.

उन्होंने कहा कि कल प्रत्याशी को खुद धरने पर बैठना पड़ा कि ये पुलिस निष्पक्ष चुनाव नहीं करा सकती है. उन्होंने कहा कि रामपुर में फौज तक की मांग करनी पड़ गई. रामपुर में पहले तो लोगों को वोट नहीं डालने दिया जा रहा. कहीं भी किसी को निकलने नहीं दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसे वीडियो आ रहे हैं जिसमें पुलिस चेकिंग करती नजर आ रही है.

अखिलेश ने आगे पुलिस से सवाल किया कि उन्हें जानकारी दी जाए कि आखिर इलेक्शन कमीशन की गाइडलाइन क्या है? उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग की ये गाइडलाइन नहीं है कि वो पुलिस को ये आजादी दे दिया जाए कि चेकिंग आप करेंगे. अखिलेश ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि पुलिस खुद मार-पिटाई करने के लिए लगाईं गई है.

सपा प्रमुख ने अपने बयान में आगे कहा कि मैनपुरी में भी पहले दिन से प्रशासन इस कोशिश में जुटा हुआ है कि कैसे वोटिंग ना होने दिया जाए और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ अन्याय हो. उन्होंने कहा कि कि भाजपा को पूरी छूट दी गई है, वो शराब बांट सकते हैं, वो कुछ भी कर सकते हैं, उन्हें कोई रोकटोक नहीं है लेकिन सपा के लोगों पर पुलिस द्वारा पहले दिन से दबाव बनाया जा रहा है.

Related Articles

Back to top button
Live TV