अखिलेश का बड़ा बयान, बोले- चुनाव होने पर पड़ते हैं छापे, BJP का इनकम टैक्स,ED और CBI से गठबंधन, 22 में बदलाव तय

कन्नौज : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कन्नौज में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा पर जमकर हमला बोला। वहीं सपा MLC पुष्पराज जैन के घर इनकम टैक्स के छापेमारी पर उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि कई महीने से छापेमारी की सूचना मिल रही थी। पता था कि सपाई लोगों पर छापा पड़ेगा। भाजपा वाले दिल्ली से जांच एजेंसी लाते है। बीजेपी जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही। ये समाजवादी पार्टी को बदनाम करना चाहते हैं। सपा का जनसमर्थन देख भाजपा को डर लगने लगा है। इसी लिए जहां-जहां चुनाव होते हैं वहां-वहां छापे पड़ते हैं।

भाजपा पर हमलावर होते हुए उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए लोगों के ऊपर छापे पड़ रहे हैं और दिल्ली से जब भी भारतीय जनता पार्टी का यूपी में कार्यक्रम होता है लगता है कि अपने साथ में इन विभागों को भी बुलाते हैं। कन्नौज समाजवादियों से जुड़ा हुआ क्षेत्र रहा है, यहां का अगर इतिहास उठा कर देखेंगे यहां पर भाईचारे और सौहार्द का इतिहास रहा है। कन्नौज में इत्र कोई आज से नहीं बन रहा है बहुत वर्षों से यहां इत्र बन रहा है। कन्नौज की अपनी पहचान इत्र की रही है, कन्नौज इत्र के लिए यह राजधानी है, यह सुगंध की राजधानी है।

आगे उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले यह सौहार्द की सुगंध को कैसे पसंद करेंगे? जानबूझकर यह लोग सपा को तो बदनाम करना ही चाहते हैं लेकिन दुख बात ये है कि लखनऊ से लेकर दिल्ली वाले तक कन्नौज जिसका इतिहास सुगंध और इत्र का है इसी से इसकी पहचान दुनिया में है उसको बदनाम करने में लगे हुए हैं। पहले दिन से कह रहे हैं जिस जगह पहले छापा मारा इन्होंने, उससे समाजवादी पार्टी का कोई रिश्ता नहीं है। जिस पर छापा पड़ा पहली बार, उससे BJP और BJP के लोगों का का संबंध है।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बताए इतने बड़े पैमाने पर रुपया कैसे निकला? जिस BJP ने बताया कि नोटबंदी के बाद कालाधन नहीं आएगा, GST लागू हो जाने से व्यापार का सरलीकरण होगा इससे व्यापार अच्छा हो सकेगा। क्या हुआ? आगे उन्होंने कहा कि ढूंढने गए थे सपा के पुष्प राज जैन को और खोज निकाला इन्होंने BJP के सहयोगी पीयूष जैन को। अब अपनी इस गलती की खींज मिटाने के लिए इन्होंने फिर छापा मारा है।

विजय रथ का जनसमर्थन देख सुनने में आया दिल्ली से तीन काले कानून वापस हो गए। जहां-जहां चुनाव होता है और उन्हें लगता है कि यह हार रहे हैं वहाँ ये छापा मारते हैं। जो शहर के प्रतिष्ठित लोग हैं, उनको धमकाया जाता है कप्तान धमकाते है, उसके बाद बसे इकट्ठा होती है कुछ जगह पैसा देकर मनरेगा के लोगों को लालच देकर कि आज तो केवल रैली में भाषण सुनना है और पेमेंट आपका हो जाएगा।

भाजपा का इनकम टैक्स,ED,CBI गठबंधन है- अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव के समय भाजपा के केवल नेता नहीं दिखाई देंगे बल्कि इनके जो सहयोगी संगठन है इनकम टैक्स,ED,CBI जिनसे इन्होंने गठबंधन किया है। हमने तो क्षेत्रीय दलों से गठबंधन किया है लेकिन BJP ने अंदर से इन लोगों से हाथ मिला लिया है। इनकी जो रैलियां हो रही है बसों में लोगों को जबरदस्ती बिठाते हैं। इनके लेखपाल, तहसीलदार, SDM, DM लगता है यह चुनाव लड़ रहे हैं। अगर BJP की रैली हो तो सबसे पहले सूचना जिलाधिकारी को देनी पड़ती है।

कागज के फूल से कभी खुशबू नहीं आ सकती- अखिलेश यादव

सपा अध्यक्ष ने कहा कि यह झूठ के फूल वाले लोग हैं। यह झूठ का फूल है भारतीय जनता पार्टी। इत्र गंगा जमुनी तहजीब और गंगा जमुनी तहजीब की जो संस्कृति है उसको साथ लाता है। कन्नौज के लोगों ने हमेशा जय जयचंद को पहचाना है। इस बार भी जय चंदो को भगाया जाएगा।

भाजपा ने राजनीति को दूषित किया- अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा कि इन्होंने राजनीति को दूषित किया है नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले लोग हैं। यह कन्नौज के लोग जो सुगंध को पसंद करते हैं आने वाले समय में इन लोगों को सबक सिखाने का काम करेंगे। जनता समाजवादी पार्टी के साथ है। बीजेपी वालों ने बचपन में पढ़ाई नहीं की अब KG क्लास की पढ़ाई पढ़ रहे हैं।

Koo App
#बुलन्द_इरादा_22_का_संकल्प #बदलेगा_यूपी_का_काया_कल्प आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी के द्वारा किये गए जनहित कार्यों को जन जन तक पहुँचा 22 के आगमन की पुरजोर तैयारी उत्तर प्रदेश की जनता संकल्प ले चुकी है पुनः मुख्यमंत्री बनाने के लिए। विदा ले रहे साल का अंतिम दिन सभी को सलाम कुछ ही घण्टों में आने वाला 22 खुशियों से भरा हो #समाजवादी_राह_है #22_में_बदलाव_है Nafees Ahmad (@nafeesahmadsp) 31 Dec 2021
SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV