दिल्ली जल संकट को लेकर आप और बीजेपी के बीच घमासान , एक दूसरे पर लगा रहे आरोप

राजधानी दिल्ली में पानी का संकट फिर से बढ़ गया है. इसको लेकर आम आदमी पार्टी हरियाणा की बीजेपी सरकार को दोषी ठहरा रही है , तो वहीं बीजेपी आप को.

राजधानी दिल्ली इस बार फिर पानी की कमी की बढ़ती समस्या का सामना कर रही है. बढ़ती गर्मी के कारण राज्य में हालात काफी बिगड़ रहे हैं. बुधवार की सुबह दिल्ली की कई कालोनी के लोग हाथ में बालटियां लेकर पानी मिलने की आस में लंबी लाइन लगाकर खड़े नजर आए . इस बढ़ते जल संकट को लेकर दिल्ली की सरकार ने बीजेपी पर आरोप लगाया है. आतिशी ने दौरे के दौरान कहा कि वजीराबाद बैराज जिसके जरिए यमुना का पानी दिल्ली आता है उसमें जल का स्तर काफी कम हो गया है. इसके कारण दिल्ली को बढ़ते जल संकट का सामना करना पड़ रहा है. इसका जवाब देते हुए बीजेपी की सरकार ने पानी छोड़ने का डेटा जारी किया . हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह ने भी पलटवार करते हुए आप की दोषी जल मंत्री आतिशी को दोषी ठहराया. हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह ने भी पलटवार किया और आप के ऊपर पानी के मुद्दे को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया.

मुख्यमंत्री नायब ने मीडिया को बताया कि हरियाणा को दिल्ली के लोगों की परवाह है. उन्होंने यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी पानी के मुद्दे पर राजनीति करती है. ये करने से पहले उन्हें अपने गिरेबान में झांकना चाहिए. वो  लोगों से किए गए वादों को पूरा करने में नाकाम रहते है , क्योंकि उनका ध्यान भ्रष्टाचार पर ज्यादा रहता है.

वहीं आतिशी ने कहा कि हरियाणा सरकार को दिल्ली में पानी छोड़ना चाहिए क्योंकि जब तक वह पानी नहीं छोड़ेंगे तब तक वहां पानी का संकट बढ़ता रहेगा. उन्होंने यह भी कहा कि कम पानी छोड़े जाने की वजह से वजीराबाद बैराज का जल स्तर 6.20 फुट घट भी गया है.

बता दें कि जल मंत्री आतिशी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखते हुए यह भी है कहा कि अगर उनके राज्य में पानी की समस्या हल नहीं हुई तो वह 21 जून से हड़ताल पर बैठेना चालू कर देंगी.

Written By : Simran Arora

Related Articles

Back to top button