सीएम योगी से वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद बरेली पहुंचे डीजीपी मुकुल गोयल, अफसरों पर कही यह बड़ी बात

डीजीपी मुकुल गोयल अफसरों के ट्रांसफर-पोस्टिंग पर बात करते हुए कहा कि चुनाव आयोग के दिशानिर्देश आना शुरू हो गए हैं, विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और ज्यादातर जिलों में तीन साल से तैनात अफसरों का तबादला होना तय है। उन्होंने पीएम मोदी और सीएम योगी को हाल ही में मिली धमकी के प्रश्न पर कहा कि ट्विटर के जरिये यह धमकी दी गयी थी। इस मामले कि गंभीरता को देखते हुए ट्विटर एकाउंट्स की ट्रेसिंग की जा रही है।

कैराना से लौटने के बाद प्रदेश के पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल बरेली पहुंचे हैं। इस दौरान वो एडीजी आवास पर ठहरे हुए थे और मीडियकर्मियों से बातचीत की। विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर डीजीपी मुकुल गोयल ने बड़ी बात कही। उन्होंने कहा कि जिले में जिन अफसरों का तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा हो चूका है अब उनका ट्रांसफर किया जाना है।

Koo App
#Bareilly ➡डीजीपी मुकुल गोयल बरेली जनपद पहुंचे ➡विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर की चर्चा ➡शामली से लखनऊ जाते समय बरेली में रुके डीजपी ➡3 साल से जमे अधिकारियों को हटाया जाएगा ➡चुनाव आयोग के निर्देश आना शुरू हो गए हैं-डीजीपी ➡पीएम मोदी और सीएम योगी को मिली धमकी ➡ट्विटर पर मिली बम से उड़ाने की धमकी-डीजीपी ➡ट्विटर एकाउंट को किया जा रहा है ट्रेस-डीजीपी।
भारत समाचार (@bharatsamachar) 9 Nov 2021

दरअसल, डीजीपी मुकुल गोयल कैराना से लखनऊ जा रहे थे लेकिन इसी दौरान उन्हें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुचना मिली। मुख्यमंत्री से वीडियो कांफ्रेंसिंग पर वार्ता करने के बाद डीजीपी, बरेली स्थित एडीजी अविनाश चंद्र के आवास पर पहुंचे। यहां उन्होंने मीडियाकर्मियों को सम्बोधित करते हुए कई बड़ी बातें की। बातचीत के दौरान डीजीपी गोयल ने जिले में तैनात पुलिस अफसरों के ट्रांसफर-पोस्टिंग पर बात करते हुए कहा कि चुनाव आयोग के दिशानिर्देश आना शुरू हो गए हैं, विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और ज्यादातर जिलों में तीन साल से तैनात अफसरों का तबादला होना तय है।

उन्होंने कहा कि उन अफसरों का तबादला जल्द ही किया जाना है जो तमाम जिलों में 31 मई 2022 तक अपना तीन साल का कार्यकाल पूरा करने वाले हैं। इस दौरान उन्होंने सोशल मीडिया से उत्पन्न होने वाली आपराधिक चुनौतियों के बारे में भी बात करते हुए कहा कि सोशल मीडिया से जुड़े अपराधों के रोकथाम के लिए पुलिस निरंतर प्रयासरत है। उन्होंने पीएम मोदी और सीएम योगी को हाल ही में मिली धमकी के प्रश्न पर कहा कि ट्विटर के जरिये यह धमकी दी गयी थी। इस मामले कि गंभीरता को देखते हुए ट्विटर एकाउंट्स की ट्रेसिंग की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 1 =

Back to top button
Live TV