कानून व्यवस्था बड़ी चुनौती, कोर्ट परिसर में हो रही हत्या, मायवती ने सरकार पर साधा निशाना

आज लखनऊ में कोर्ट रूम में गवाह कटघरे में एक बदमाश की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड पर मायावती ने सरकार पर निशाना साधा है।

प्रदेश में जहां एक तरफ सरकार कानून व्यवस्था को लेकर अपना बखान करते नही थकती तो दूसरी तरफ आए दिन रोज ऐसी-ऐसी घटनाए हो रहीं है जो लोगों को अपनी सुरक्षा पर सोचने पर मजबूर कर रही हैं। आज लखनऊ में कोर्ट रूम में गवाह कटघरे में एक बदमाश की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड पर मायावती ने सरकार पर निशाना साधा है।

बसपा सुप्रीमों मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा कि लखनऊ कोर्ट परिसर में आज हुए सनसनीखेज गोलीकाण्ड में खुलेआम हुई हत्या यूपी में कानून व्यवस्था व अपराध नियंत्रण के मामले में सरकार के लिए बड़ी चुनौती। ऐसी घटनाओं से आम जनता में काफी दहशत। सरकार सख़्त कदम उठाए, बीएसपी की यह माँग।

संजीव जीवा पश्चिमी यूपी में अपनी धौंस दिखाता एक कुख्यात बदमाश था। जिससे पश्चिमी यूपी के लोग काफी ज्यादा डरा करते थे। संजीव जीवा ने बड़ी-बड़ी अपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया था। पश्चिम यूपी में अंडरवर्ल्ड का जीवा बड़ा डॉन था। साथ ही वो मुख्तार अंसारी, मुन्ना बजरंगी गैंग का सदस्य था। इसके अलावा ब्रह्मदत्त द्विवेदी हत्याकांड में जीवा शामिल था। इतना ही नहीं अपहरण, हत्या और फिरौती वसूलने में जीवा माहिर था।

दरअसल जीवा मुजफ्फरनगर का रहने वाला था और अपने शुरुआती दिनों में वो दवाखाना संचालक के यहां कंपाउंडर की नौकरी करता था। कहा जाता है कि नौकरी के दिनों में जीवा ने अपने संचालक को ही अगवा कर लिया था, इसके अलावा 90 के दशक में अपहरण, हत्या और फिरौती की वारदातों को अंजाम देने में पारंगत हो गया था। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार हत्या और फिरौती के मामले में जीवा पर 22 मुकदमे थे। 22 मुकदमों में से 17 में जीवा बरी हो चुका था।

Related Articles

Back to top button
Live TV