नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक्टर और हीरो के बीच बताया अंतर बोले, “हीरो बस तब तक जब तक है डोले-शोले”

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक्टर और हीरो के बीच के अंतर पर अपनी राय रखी है। एक नए इंटरव्यू में, उन्होंने कहा है कि हीरो का वक्त होता है, जबकि एक्टर का कोई वक्त नहीं होता है।

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक्टर और हीरो के बीच के अंतर पर अपनी राय रखी है। एक नए इंटरव्यू में, उन्होंने कहा है कि हीरो का वक्त होता है, जबकि एक्टर का कोई वक्त नहीं होता है।

एक एक्टर और हीरो के बीच अंतर के बारे में पूछे जाने पर, नवाजुद्दीन ने कहा “ये कोई भी बता देगा की हीरो का वक्त होता है, अभिनेता का कोई वक्त नहीं होता। अभिनेता पुरी जिंदगी अभिनय करता है और अलग-अलग किरदारों में नज़र आता है। जबकि हीरो के जब तक दोले-शोल, पंप-वंप रहते हैं, तब तक वो ठीक है।  जहां पंप की हवा निकली, तो वो गया हो जाता है।’

पिछले साल भी नवाजुद्दीन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि ज्यादा स्क्रीन वाली फिल्में हिट हो जाती है। अगर कोई 4500 स्क्रीन पर फिल्म रिलीज करता है और किसी अन्य फिल्म को चलने नहीं देता है  तो बिल्लियों और कुत्तों के बारे में बनने वाली फिल्म भी 20-30 करोड़ रुपये कमाएगी। यह सच है। यह समझना बहुत जरूरी है कि अगर कोई फिल्म 4500 से अधिक स्क्रीन पर रिलीज होती है चाहे वह किसी की भी हो यह  20-30-40 करोड़ कमाएगी।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV